DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धोबना गांव में मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव

नारायणपुर प्रतिनिधि। प्रखंड क्षेत्र के धोबना गांव आज भी विकास से कोसो दूर है। जिस कारण गांव में आज भी मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव है। 300 आबादी वाले इस गांव में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल आदि मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव है।

आरोप है कि इसके बावजूद गांव की सुध लेने न कभी जनप्रतिनिधि पहुंचते हैं, और न ही कभी कोई विभागीय अधिकारी ही इस गांव की समस्या जानने आए हैं। गांववासी दिनेश मुर्मू, राकेश कुमार, संतोष कुमार, काली मरांडी आदि ने कहा कि गांव तक जाने की सड़क जहां तहां गड़ढे हो जाने से आवागमन में काफी परेशानी होती है।

गांव में इससे भी बडी समस्या इनदिनों पेयजल की समस्या है। गांव में विभाग की ओर से दो चापाकल लगाए गए हैं, दोनों चापाकल खराब पड़े हुए हैं। जिस कारण ग्रामीणों को कुंआ का दूषित पानी पीने के लिए ववशि हैं।

क्या कहते हैं मुखिया: पंचायत के मुखिया लोवेश्वर हेम्ब्रम ने कहा कि राशि के अभाव में कार्य नहीं हो पा रहा है। राशि आने पर विकास का कार्य होगा। चापाकल मरम्मत की दिशा में पहल किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धोबना गांव में मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव