DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोले धौनी चलो सबकी मीटिंग ही ले लेता हूं

खेल संवाददाता रांची। एक अजीब सी दिखनेवाली बाइक बुधवार की दोपहर तीन बजे जब अचानक जेएससीए स्टेडियम के गेट पर रुकी तो गेट पर मौजूद सुरक्षकर्मियों को समझ नहीं आया कि प्लेट वाली बुशर्ट और चुस्त पैंट पहने यह कौन आया है। पर हेलमेट के अंदर नजर गई तो सब चकित रह गए। यह महेंद्र सिंह धौनी थे जो अचानक ही गेट पर पहुंच गए थे। पोर्टिको पर पहुंचते ही सबको पता चल गया कि धौनी आए हैं। धौनी को सीधे ओवल ग्राउंड ले जाया गया जहां झारखंड और असम का मैच चल रहा था।

वहां भारतीय टीम के चयनकर्ता सैयद सबा करीम भी बैठे थे। धौनी ने मैच की समाप्ति तक स्कोरर पवेलियन से मैच देखा। सबा करीम से गुफ्तगू चलती रही। इस बीच जेएससीए के अध्यक्ष अमिताभ चौधरी भी वहां पहुंचे। मैच खत्म हुआ तो धौनी सबा और आरडीसीए के पदधारी झारखंड के कैंप में पहुंचे और टीम के खिलाड़ियों को बधाई दी। खिलाड़ियों ने धौनी से आग्रह किया कि कुछ समय उनके साथ बिताएं। धौनी ने कहा कि चलो सबकी मीटिंग ही ले लेता हूं।

फिर सारे खिलाड़ियों को लेकर धौनी पहले तल्ले स्थित कांफ्रेस रुम में पहुंच गए। टीम मैनेजर, कोच व फिजियो भी साथ थे। लंबे समय के अंतराल के बाद धौनी टीम के खिलाड़ियों से मुखातिब थे। उन्होंने नए और पुराने खिलाड़ियों को टिप्स दिए। जिसने जो पूछा, उसका जवाब दिया। एक घंटे तक चली मीटिंग में मजाक तो चला ही पर धौनी ने गंभीर बिंदुओं पर भी नसीहतें दीं। जैसे प्रेशर को कैसे हैंडल करना है, मैच फिनिशिंग कैसे करनी है।

प्रतिकूल परिस्थितियों में कैसे अपने आप को काबू में रखना है। माही ने कहा कि झारखंड की वनडे टीम अच्छी है। उन्होंने नसीहत दी कि अभ्यास के सत्र को मैच की तरह ही लेना चाहिए। इसमें मजाक बिल्कुल नहीं होना चाहिए। घंटे भर बाद जब धौनी बाहर निकले तो पार्किंग में तबतक दर्जनों फैन उनकी बाइक पर बैठकर फोटो खिंचवा चुके थे। कुछ उनकी विशाल बाइक को सहला रहे थे तो कुछ निहार रहे थे। धौनी बाइक पर बैठे, स्टार्ट की और धड़धड़ाते हुए स्टेडियम से बाहर निकल गए। साथ में न कोई सुरक्षा और न कोई मित्र। बिल्कुल अकेले।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बोले धौनी चलो सबकी मीटिंग ही ले लेता हूं