DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्चा बदलने के मामले की पूरी जानकारी दें: हाईकोर्ट

पटना वि.सं.। हाईकोर्ट ने एक नर्सिंग होम से बच्चा बदलने के मामले में सरकार से पुलिसिया कार्रवाई की पूरी जानकारी मांगी है। कोर्ट ने एक हफ्ते के भीतर जवाबी हलफनामा दायर करने का आदेश दिया। न्यायमूर्ति वीएन सिन्हा व न्यायमूर्ति अहसानुद्दीन अमानुल्लाह की खंडपीठ ने बच्चों की मां सोनी देवी की अर्जी पर सुनवाई के बाद यह आदेश दिया।

आवेदिका ने बताया था कि पिछले साल 17 अक्टूबर को पोलो अस्पताल में उसने बेटे को जन्म दिया था। बच्चा काफी कमजोर था, इसलिए उसे बेहतर इलाज के लिए जगत नारायण रोड स्थित डॉ. मंजू गीता मिश्रा के नर्सिग होम में भर्ती कराया गया।

उनका कहना था कि पोलो अस्पताल ने जो सर्टिफिकेट दिया है, उसमें बच्चा का जिक्र किया गया है। नर्सिग होम ने भर्ती के समय जो रसीद दी, उसमें भी बच्चों का जिक्र है। लेकिन डॉक्टर एवं वहां के स्टाफ की मिलीभगत से लड़का को गायब कर उसकी जगह लड़की दे दी गई। हाईकोर्ट ने घटना को लेकर कदमकुआं में दर्ज एफआईआर पर क्या कार्रवाई हुई, उसके बारे में जवाब देने का आदेश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बच्चा बदलने के मामले की पूरी जानकारी दें: हाईकोर्ट