अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीसीएल : अप्रैल में लक्ष्य पाना मुश्किल

रांची। अप्रैल 0में सीसीएल के लिए लक्ष्य पाना मुश्किल लग रहा है। इस महीने कंपनी ने 35.57 लाख टन उत्पादन करने का लक्ष्य रखा है। 13 अप्रैल तक 11.32 लाख टन उत्पादन हो पाया है। लगातार बंदी और चुनाव में खनन से जुड़े कर्मियों की डय़ूटी लग जाने से उत्पादन प्रभावित हो रहा है। माह के शुरुआती दिनों में रोाना करीब एक लाख टन उत्पादन हो रहा था। पर्याप्त संख्या में कर्मियों के नहीं रहने के यह घटकर करीब 80 हाार टन पहुंच गया है। महीना खत्म होने में अभी करीब 15 दिन बचे हैं। वर्तमान रफ्तार कायम रहने पर इस अवधि में लगभग 12 लाख टन उत्पादन की उम्मीद है।ड्ढr आइएसएम का मिलन 30 कोड्ढr रांची। आइएसएम अल्युमिनी एसोसिएशन के रांची चैप्टर का मिलन-0सीएमपीडीआइ कैंपस स्थित फुटबॉल ग्राउंड में 30 अप्रैल को शाम छह बजे से होगा। संयुक्त महासचिव पियूष कुमार ने बताया कि मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। स्मारिका का विमोचन भी किया जायेगा। आयोजन को सफल बनाने के लिए कमेटी भी गठित की गयी है। इसके अध्यक्ष सीसीएल के सीएमडी रांन कुमार साहा बनाये गये हैं।ड्ढr और गाड़ियां मांगीड्ढr रांची। चुनाव कराने के लिए सीसीएल के विभिन्न एरिया से जिला प्रशासन ने और गाड़ियां मांगी है। एकमात्र पिपरवार से 50 गाड़ियां मांगी गयी हैं। आदेश मिलने से अधिकारी परशान हो गये हैं। उनका कहना है कि मौजूद गाड़ियों को पहले ही सीज किया जा चुका है। अतिरिक्त गाड़ी की व्यवस्था वे कहां से कर पायेंगे।ड्ढr कैंटीन भी बंद हुआड्ढr रांची। सीसीएल मुख्यालय स्थित कैंटीन भी 18 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है। यहां पदस्थापित कर्मियों की डय़ूटी भी चुनाव में लग गयी है। इसकी वजह से मंगलवार दोपहर का भोजन करने गये कई कर्मियों को निराश लौटना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीसीएल : अप्रैल में लक्ष्य पाना मुश्किल