DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डाक्टर तल्ख, निकाला कैंडिल मार्च

 बलिया, वरिष्ठ संवाददाता। कानपुर मेडिकल कॉलेज की घटना के विरोध में उतरे चिकित्सकों ने तीसरे दिन बुधवार को भी बांह पर काली पट्टी बांधकर चिकित्सकीय कार्य किया। आगे की रणनीति के लिए पहले तो दोपहर बाद दो बजे और फिर शाम को छह बजे अस्पताल परिसर में बैठक हुई। इसमें सरकारी अस्पताल के पीएमएस से सम्बद्ध चिकित्सकों के अलावा आईएमए के चिकित्सक भी मौजूद रहे। चिकित्सकों ने हाईकोर्ट द्वारा मामले का संज्ञान लेने पर संतोष जताया।

दोपहर की बैठक में सरकारी अस्पतालों में छह मार्च से ओपीडी भी बंद करने का निर्णय लिया गया था लेकिन शाम को लखनऊ में बदलते हालात के बाद यह निर्णय वापस ले लिया गया। देर शाम साढ़े सात बजे चिकित्सकों ने कैंडिल मार्च भी निकाला। विरोध प्रदर्शन के क्रम में जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने बुधवार को भी काली पट्टी बांधकर काम किया। पीएमएस व आईएमए से जुड़े चिकित्सकों का कहना था कि मरीजों को कोई दिक्कत न हो, इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है।

बुधवार की शाम तक चिकित्सक लखनऊ में हो रही वार्ता आदि पर नजर रखे रहे। शाम चार बजे तक कोई निर्देश नहीं मिलने से यहां ऊहापोह की स्थिति बनी रही। पीएमएस के पदाधिकारी डा. पीके सिंह ने शाम को जानकारी दी कि मामले में उच्च न्यायालय ने हस्तक्षेप किया है। कोर्ट के सम्मान तथा पीएमएस की केन्द्रीय कार्यकारिणी के निर्देश पर यह तय किया गया है कि अस्पतालों में चिकित्सक पहले की तरह ही ओपीडी करेंगे। इस दौरान डा. मिथिलेश सिंह, डा. एसपी राय, डा. जेपी सिंह, डा. अविनाश सिंह, डा. आरके मेहतो, डा. राजेश प्रसाद, डा. एके स्वर्णकार, डा. रमेश कुमार, डा. विनेश गुप्त, डा. वीके गुप्त, डा. संतोष चौधरी, डा. शविप्रसाद, डा. वीपी सिंह आदि थे।

अध्यक्षता आईएमए के अध्यक्ष जीसी उपाध्याय ने की। इनसेटआईएमए के डॉक्टर आज नहीं करेंगे ओपीडी पीएमएस ने भले ही छह मार्च से ओपीडी ठप करने का अपना निर्णय फिलहाल बदल दिया है लेकिन आईएमए ने ओपीडी सेवा बंद रखने की घोषणा की है। आईएमए से जुड़े डा. अजीत सिंह ने बताया कि आईएमए से सम्बद्ध सभी चिकित्सक छह मार्च को ओपीडी नहीं करेंगे। यदि बात नहीं बनी तो यह आगे भी जारी रहेगा। इस निर्णय के बाद निजी नर्सिग होमों में आज से चिकित्सा सेवा प्रभावित होने की आशंका है।

जिले में आईएमए से सम्बद्ध करीब 80 से 85 चिकित्सक हैं। ये सभी छह मार्च से ओपीडी नहीं करेंगे। ं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डाक्टर तल्ख, निकाला कैंडिल मार्च