DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चाय में जहर होने की संभावनाएं जता रहे लोग

मुरादाबाद, हिन्दुस्तान संवाद। चाय पीने से एक की मौत व दो को जिला अस्पताल रेफर किया जाता है। वहीं फैली चाय के पीने से कुत्ते के पिल्ले की मौत इस बात की पुष्टि करती है कि चाय में जहर मिलाया गया था। लेकिन 6 दिन बाद आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हृदय गति रुकने की बात सामने आई है। परिजनों ने एसपी से न्याय की गुहार लगाई है।

बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के ग्राम देवखरी में बीते एक सप्ताह पहले साथ-साथ झब्बू , श्रवण व रमाकांत ने चाय पी थी। कुछ समय बाद झब्बू की मौत हो गई। श्रवण व रमाकांत की हालत बिगड़ने पर स्थानीय पीएचसी में भर्ती कराया गया। जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था। उनका आज भी इलाज चल रहा है। घटना घटने से एकत्रित ग्रामीणों की भीड़ ने पी गई चाय को जमीन पर फेंक दिया। इसको पीने से एक कुत्ते के पिल्ले की शीघ्र मौत हो गई।

कुत्ते के पिल्ले के मरने से ग्रामीणों में चर्चाएं शुरू हो गई कि चाय में जहर मिलाया गया था। कुत्ते की मौत इस बात की पुष्टि भी करता है। कोतवाली प्रभारी सुभाष चंद्र तिवारी के अनुसार 6 दिन बाद आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने इस घटना की दिशा ही बदल दी है। परिजन इस पोस्टमार्टम रिपोर्ट को पचा नहीं पा रहे हैं। उन्होंने संदेह जताते हुए एसपी से न्याय की गुहार लगाई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चाय में जहर होने की संभावनाएं जता रहे लोग