DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'नई सरकार को आर्थिक वृद्धि निवेश को गति देनी होगी'

'नई सरकार को आर्थिक वृद्धि निवेश को गति देनी होगी'

योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने कहा है कि चुनाव के बाद बनने वाली नई सरकार को आर्थिक वृद्धि को पटरी पर लाने के लिये तीन महीने के भीतर निवेश तथा ढांचागत परियोजनाओं को गति देने की जरूरत होगी।

यह पूछे जाने पर कि आम चुनावों के बाद नई सरकार के लिये निवेश में सुधार तथा आर्थिक वृद्धि को गति देना कितना महत्वपूर्ण होगा, अहलूवालिया ने कहा कि मेरे विचार से अगर इन समस्याओं का समाधान तीन महीने के भीतर नहीं किया गया, तो आप ऊंची आर्थिक वृद्धि हासिल करने बात भूल सकते हैं।

उद्योग मंडल सीआईआई के रिवाइविंग इनवेस्टमेंट: इम्परेटिव्स ऑफ प्रोजेक्ट क्लीयरेंस विषय पर आयोजित एक सम्मेलन में उन्होंने कहा कि कोई भी सरकार जो इसका समाधान करने में विफल रहती है, उसे वास्तव में यह घोषणा करनी चाहिए कि हम वृद्धि के रास्ते को खत्म करते हैं। 12वीं पंचवर्षीय योजना (2012-17) में सालाना औसत आर्थिक वृद्धि दर 8 प्रतिशत का लक्ष्य रखा गया है।

हालांकि 12वीं योजना के पहले वित्त वर्ष 2012-13 में आर्थिक वृद्धि दर 4.5 प्रतिशत रही। केंद्रीय सांख्यिकी संगठन (सीएसओ) ने चालू वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 4.9 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है। ऐसे में 8 प्रतिशत के लक्ष्य को हासिल करना मुश्किल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'नई सरकार को आर्थिक वृद्धि निवेश को गति देनी होगी'