DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमशेदपुर की ट्रेनों में ज्यादातर व्यवसाई बने लूट का शिकार

जमशेदपुर संवाददाता। टाटानगर स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेनों में लूट के शिकार ज्यादातर व्यवसायी हुए हैं। इनमें से भी अधिकतर जुगसलाई और आदित्यपुर के निवासी हैं। इन्हें चलती ट्रेन में चाईबासा और घाटशिला से तगादे में रकम वसूलकर ट्रेन से आने के दौरान लूटा गया लेकिन वर्ष 2008 के बाद डकैती और वर्ष 2011 के बाद लूट का कोई मामला रेल थाने में दर्ज नहीं हुआ है।

डकैती : वर्ष 2002 में एक, वर्ष 2003 में एक, वर्ष 2005 में तीन, वर्ष 2006 में एक, वर्ष 2007 में दो, वर्ष 2008 में एक केस दर्ज हुआ।

लूट : वर्ष 2001 में एक, वर्ष 2002 में दो, वर्ष 2003 में छह, वर्ष 2004 में एक, वर्ष 2005 में तीन, वर्ष 2006 में एक, वर्ष 2007 में वर्ष एक, 2008 में चार, वर्ष 2009 में चार, वर्ष 2010 में एक और वर्ष 2011 में चार घटनाएं दर्ज हुई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जमशेदपुर की ट्रेनों में ज्यादातर व्यवसाई बने लूट का शिकार