DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोयला आवंटन के लिए कंपनियों से वार्ता होगी

रांची। हिन्दुस्तान ब्यूरो। जलावन के कोयले के आवंटन के लिए कोयला कंपनियों से बातचीत की जाएगी। स्पीकर शशांक शेखर भोक्ता ने राज्य सरकार को कंपनियों से वार्ता कर समाधान निकालने का निर्देश दिया है। जलावन के कोयले का आवंटन कई वर्षो से बंद है।

इस विषय को कांग्रेस विधायक सौरभ नारायण सिंह ने ध्यानाकर्षण में उठाया था, जिसके जबाव में संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र प्रसाद सिंह का कहना था कि कोयले का आवंटन कंपनियों से दस किलोमीटर की परिधि में बंद किया गया है।

बाकी लाइसेंसधारियों को आवंटन मिल रहा है। उधर, विधायक का कहना था कि आवंटन बंद होने के कारण लोग चोरी के कोयले खरीद रहे हैं। इससे राजस्व की हानि के साथ-साथ गलत काम को प्रोत्साहन मिल रहा है।

मंत्री से संतोषजनक जबाव नहीं मिलने पर स्पीकर ने कंपनियों से वार्ता कर कोयले का आवंटन कराने का निर्देश दिया। विधायक लोबिन हेम्ब्रम, मथुरा महतो और समरेश सिंह ने भी कोयले की आवंटन की मांग की। केन्द्र सरकार को भेजा जाएगा प्रस्तावरांची।

संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा है कि घटवार जाति को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल करने के लिए केन्द्र सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकार ने प्रस्ताव भेजा था, जिस पर कार्रवाई नहीं की गई।

इस विषय को लेकर वह व्यक्तिगत रूप से केन्द्रीय मंत्री मुकुल वासनिक से मिले थे। यह मामला आजसू पार्टी विधायक उमाकांत रजक ने उठाया था। दल के नेता सुदेश कुमार महतो ने सरकार से केन्द्र को लिखित प्रस्ताव भेजने का आग्रह किया।

आकस्मिकता निधि से मिलेगा बकाया फंडरांची। पंचायती राज मंत्री केएन त्रिपाठी ने विधायक अरविन्द कुमार सिंह को 2009-10 के बकाये विधायक फंड को आकस्मिकता निधि से देने का आश्वासन दिया है।

त्रिपाठी ने कहा कि सरायकेला-खरसावां जिले के तीन विधायकों का फंड कतिपय कारणों से रिलीज नहीं हो पाया था। अगले अनुपूरक बजट में आवंटन की व्यवस्था की जाएगी। विधायक के आग्रह पर मंत्री ने इस वित्तीय वर्ष में आकस्मिकता निधि से फंड देने पर सहमति दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोयला आवंटन के लिए कंपनियों से वार्ता होगी