DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ध्रुव हेलीकॉप्टर का संचालन नागर विमानन करेगा

रांची। हिन्दुस्तान ब्यूरो। गृह विभाग के हेलीकॉप्टर का संचालन अब नागर विमानन विभाग करेगा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इसकी सहमति दे दी है। वर्ष 2007 के अगस्त महीने में जब ध्रुव हेलीकॉप्टर झारखंड आया था तब नागर विमानन विभाग के जिम्मे इसका संचालन था। मरम्मत के लिए खड़ा है ध्रुव पूर्व मुख्यमंत्री मधुकोड़ा के शासनकाल में मंत्रियों द्वारा ध्रुव का दुरुपयोग किये जाने के कारण इसे गृह विभाग को सौंप दिया गया।

ध्रुव सिर्फ पुलिसिंग के कार्य में इस्तेमाल के लिए आरक्षित कर दिया गया। गृह विभाग के पास अधिक समय ध्रुव खराब रहा और कभी समय पर काम नहीं आया। आपातकाल में मुख्यमंत्री हेंमत सोरेन के लिए बिहार से और सेना से हेलीकाप्टर मंगाया गया था। अभी नंवबर माह में स्थापना दिवस पखवाड़ा के समय में नागर विमानन विभाग का किराये का हेलीकॉप्टर अगस्टा रखरखाव के कारण उड़ने के योग्य नहीं था, तब मुख्यमंत्री के लिए चार्टर हेलीकॉप्टर ग्लोबल एजेंसी से मंगवाया गया था।

अभी भी ध्रुव हेलीकॉप्टर मरम्मत के लिए खड़ा है। गृह विभाग द्वारा दो पायलटों की नियुक्ति की गयी थी। उड़ान नहीं होने के कारण पायलट त्यागपत्र देकर चले गए। गृह विभाग पायलटों को रोकने में विफल रहा है। गृह विभाग के पास हेलीकॉप्टर के संचालन का तकनीकी अनुभव नहीं होने के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है।

ध्रुव का सही इस्तेमाल हो इसलिए मुख्यमंत्री ने नागर विमानन सचवि सजल चक्रवर्ती से इस मुद्दे पर प्राथमिक स्तर की वार्ता कर ली है। जल्द ही ध्रुव नागर विमानन विभाग को सौंप दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ध्रुव हेलीकॉप्टर का संचालन नागर विमानन करेगा