DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एटीम और पैन की तरह होगा वोटर आई कार्ड

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। वोटर आईडी कार्ड यानी मतदाता पहचान पत्र भी अब एटीएम और पैन कार्ड की तरह होगा। इसे बनाने में सुरक्षा तकनीक का भी उपयोग होगा, जिससे इसकी नकल न की जा सके। देश में कई जगह नकली वोटर आईकार्ड का मामला सामने आ चुका है।

अब सुरक्षा की दृष्टि से चुनाव आयोग ने इसका स्वरूप बदलने का फैसला किया है। बिहार में लोकसभा चुनाव के बाद प्लास्टिक वोटर कार्ड बनाने की शुरुआत होगी। क्यों बदला स्वरूपमतदान के साथ-साथ यह कार्ड पासपोर्ट बनवाने, गैस और फोन कनेक्शन लेने, बैंक अकाउंट खुलवाने और रेलवे में टिकट रिजर्वेशन लेने में भी काम आता है।

जरूरत के हिसाब से कुछ लोग नकली वोटर कार्ड बनवाने से नहीं हिचक रहे। पिछले कुछ साल में उत्तरप्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत कई अन्य राज्यों में नकली पहचान पत्र पकड़े गए हैं।

अब कैसा होगानया मतदाता पहचान पत्र एटीएम और पैन कार्ड की तरह प्लास्टिक का और रंगीन होगा। स्क्रैच रेजिस्टेंट सरफेस वाला यह कार्ड हाईग्रेड प्लास्टिक का बना होगा। इसमें लेजर तकनीक से ऐसे इंतजाम किए जाएंगे कि नकली कार्ड बनाना आसान नहीं होगा।

केंद्रीय चुनाव आयोग पहचान पत्र का रंग रूप बदलने से संबंधित सूचना कुछ माह पहले सभी राज्यों के चुनाव आयुक्तों को दे चुका है। कुछ जगह नए कार्ड बनने भी लगे हैं। बिहार में लोकसभा चुनाव बाद इस पर काम शुरू होगा।

पहले चरण में यह कुछ खास क्षेत्रों में ही बनाया जाएगा। नए-पुराने में भ्रम : चुनाव आयोग से जुड़े अफसरों की मानें तो पुराने वोटर कार्ड पर अभी प्रतबिंध नहीं लगाया जाएगा, उसका प्रयोग भी चलता रहेगा, जिनके नए कार्ड बन जाएंगे, वे उसका उयोग कर सकेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एटीम और पैन की तरह होगा वोटर आई कार्ड