DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा अध्यक्ष पर कार्रवाई के लिए राजद का धरना

मुजफ्फरपुर। प्रमुख संवाददाता। राजद में तोड़फोड़ के लिए विधायकों के हस्ताक्षर में फर्जीवाड़ा का आरोप लगाते हुए बिहार विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ मंगलवार को कलेक्टट्र में धरने का आयोजन किया गया। धरना को संबोधित करते हुए राजद नेताओं ने विधानसभा अध्यक्ष पर कानूनी कार्रवाई और बिहार सरकार पर घिनौनी साजशि का आरोप लगाते हुए राष्ट्रपति शासन की मांग की।

राजद नेताओं ने कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। डीएम को सौंपे गए ज्ञापन में सरकार से राज्य में लूट, हत्या, अपहरण, बलात्कार पर लगाम लगाने और किसानों को समुचित राहत देने की मांग की गई। राजद सांसद डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि सरकार और प्रशासन में अगर इच्छाशक्ति होती तो मंटू झा की जान बच सकती थी। फिरौती नहीं मिलने पर अपहरण के छह दिन बाद औराई प्रखंड निवासी मंटू झा की हत्या कर दी गई।

उन्होंने कहा कि मोदी पूंजीपतियों के कठपुतली हैं, उन्हें गरीबों से कोई लेना देना नहीं है। मोदी के प्रधानमंत्री बनने के सपने को राजद कभी पूरा नहीं होने देगा। धरने की अध्यक्षता करते हुए राजद जिलाध्यक्ष मिथिलेश प्रसाद यादव ने कहा कि कार्यकर्ताओं से लालू प्रसाद की 11 मार्च को प्रस्तावित सभा में भारी भीड़ जुटाने का आह्वान किया।

धरना में प्रमुख रूप से पूर्व मंत्री रामपरीक्षण साहू, विधायक ब्रजकिशोर सिंह, पूर्व विधायक मुसाफिर पासवान, डॉ. सुरेन्द्र यादव, डॉ. एकबाल मोहम्मद समी, डॉ. अनिल कुमार ओझा, मुन्ना यादव, मनोज शर्मा, रमेश गुप्ता, भूपाल भारती, जय शंकर प्रसाद यादव, अनिल कुमार महतो, अली रजा अंसारी, शेखर सहनी, शविचंद्र राय, लालबाबू सहनी, लाल बाबू राम, मिश्रीलाल राय, बाली सहनी, समा परवीन, मुकेश ठाकुर एवं सुधीर यादव शामिल हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विधानसभा अध्यक्ष पर कार्रवाई के लिए राजद का धरना