DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकपाल की कमेटी के सदस्यों के चयन के प्रयास तेज

कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) ने लोकपाल की खोज (सर्च) कमेटी के सात सदस्यों और अध्यक्ष के चयन के प्रयास तेज कर दिये हैं। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी।
    
हालांकि कुछ विधिवेत्ताओं द्वारा लोकपाल की सर्च कमेटी का प्रमुख बनने से इनकार करने के बाद सरकार लोकसभा चुनावों से पहले संस्था के अध्यक्ष और सदस्यों का चयन नहीं कर सकेगी। डीओपीटी ने भ्रष्टाचार निरोधक, नीति निर्माण, सतर्कता, वित्त और कानून समेत अन्य मुददों के संबंध में कुछ विशेषज्ञों को पत्र लिखकर सर्च कमेटी के सदस्य बनने के लिए उनकी मंजूरी मांगी है।
    
नियमों के अनुसार प्रधानमंत्री की अगुवाई वाली चयन समिति सात सदस्यों और एक अध्यक्ष की सर्च कमेटी बनाएगी। उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश के टी थॉमस ने कल लोकपाल की सर्च कमेटी का प्रमुख बनने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था।
    
सरकार ने उनसे सर्च कमेटी में शामिल होने को कहा था और उन्होंने कहा कि प्रमुख बनना उनके लिए उपयुक्त नहीं है। थॉमस ने कहा था, वजह यह है कि जब मैंने नियमों का अध्ययन किया तो देखा कि हमारी समिति, जिसे सर्च कमेटी कहा जाता है, उसे चयन समिति के लिए नामों की सिफारिश करनी थी। चयन समिति के लिए उन नामों को मंजूर करना जरूरी भी है या नहीं भी। इसलिए इस सर्च कमेटी में होना उपयुक्त नहीं है।
    
इससे पहले कानूनविद फली नरीमन ने भी समिति में शामिल होने से इनकार कर दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लोकपाल की कमेटी के सदस्यों के चयन के प्रयास तेज