DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आसमान से रहेगी चुनाव पर नजर

प्रथम के चरण में छह लोकसभा सीटों के लिए शांतिपूर्ण चुनाव के लिए वायुसेना के हेलीकॉप्टरों से नक्सल प्रभावित क्षेत्रों पर नजर रखी जा रही है। तीन दिन पहले से वायुसेना के हेलीकॉप्टर उड़ान भर रहे हैं। पलामू, लोहरदगा और चतरा संसदीय क्षेत्र नक्सलवाद की दृष्टि से अतिसंवेदनशील हैं। लातेहार, विशुनपुर, सिमडेगा, अड़की ,बेतला, प्रतापपुर, कुंडा, मनातु, पांकी आदि क्षेत्रों में हवाई सव्रे किया जा रहा है।ड्ढr 15 अप्रैल से ही एक एमआइ-21 हेलीकॉप्टर पलामू जिले में तैनात कर दिया जायेगा। वहां से चतरा और लोहरदगा पर नजर रखी जायेगी। दो बेस बनाये गये हैं। एक बेस रांची रहेगा, जो खूंटी, हाारीबाग और कोडरमा के लिए सुरक्षित रहेगा। मैप के आधार पर यह देखा जा रहा है कि कोई घटना होने पर किस प्रकार राहत कार्य किया जा सकता है। पलामू, लोहरदगा और चतरा के अति उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में स्थित मतदान केंद्रों की पहचान हवाई सव्रे में की जा रही है। इन मतदान केंद्रो पर हेलीकॉप्टर से मतदान कर्मी और इवीएम पहुंचाये जायेंगे। इसी तरह हाारीबाग के विष्णुगढ़, रामगढ़ के पतरातु और कोडरमा क्षेत्र में भी हवाई सव्रे किया जा रहा है। एक हेलीकॉप्टर पलामू, चतरा, लोहरदगा तो दूसरा हाारीबाग, कोडरमा और खूंटी लोकसभा क्षेत्र के संवेदनशील इलाकों में उड़ान भर रहा है। वायुसेना के अधिकारी और जवान एमआइ-21 हेलीकॉप्टर से सव्रे कर शांतिपूर्ण मतदान के लिए रणनीति तैयार कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आसमान से रहेगी चुनाव पर नजर