DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं माधुरी

अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं माधुरी

बॉलीवुड की धकधक गर्ल माधुरी दीक्षित का कहना है कि वह पहले अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं। माधुरी को फिल्म इंडस्ट्री में आये हुए तीन दशक हो चुके हैं। माधुरी ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1984 में प्रदर्शित राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म 'अबोध' से की थी। माधुरी ने कहा कि मैं कभी भी अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थी।
       
माधुरी ने कहा कि 'अबोध' में काम करने का प्रस्ताव मेरे पास खुद आया था। उस समय मैंने और परिवार वालों ने निश्चय किया था कि मैं केवल एक फिल्म में ही काम करुंगी। बाद में मैंने संघर्ष किया और अपने आप को साबित किया। माधुरी ने अपनी आने वाली फिल्म 'गुलाब गैंग' की चर्चा करते हुए कहा कि इस फिल्म के लिए मैंने दुनिया की कई महिलाओं से प्रेरणा ली है।
       
माधुरी ने कहा कि इस फिल्म में मैंने रज्जो का किरदार निभाया है जो महिलाओं का प्रतिनिधत्व करती है। उल्लेखनीय है कि सौमिक सेन के निर्देशन में बनी फिल्म 'गुलाब गैंग' में माधुरी दीक्षित ने एक ऐसी महिला का किदार निभाया है जो महिलाओं के प्रति हो रहे अत्याचार के खिलाफ है। कहा जा रहा है कि यह फिल्म उत्तर प्रदेश की समाज सेविका संपत पाल देवी और उनकी संस्था गुलाबी गैंग पर आधारित है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अभिनेत्री नहीं बनना चाहती थीं माधुरी