DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कौशल विकास के लिए 64 एजेंसियों से अनुबंध

कौशल विकास के लिए 64 एजेंसियों से अनुबंध

उत्तर प्रदेश कौशल विकास मिशन ने प्रशिक्षुओं को उच्च गुणवत्ता का प्रशिक्षण देने के लिए ऊंचे दर्जे की 80 निजी प्रशिक्षण प्रदाताओं को चयनित किया है। इनमें से अब तक 64 प्रशिक्षण प्रदाता एजेंसियों के साथ अनुबंध किया जा चुका है, जबकि शेष 16 प्रशिक्षण प्रदाता एजेंसियों के साथ अनुबंध की कार्यवाही प्रगति के विभिन्न चरणों है।

अनुबंधित निजी प्रशिक्षण प्रदाता राज्य के सभी जिलों, तहसीलों में विभिन्न ट्रेडों के प्रशिक्षण केंद्र संचालित कर प्रशिक्षणार्थियों को हुनरमंद बनाने का कार्य करेंगे। बेरोजगारों को मिशन के तहत पूरी तरह नि:शुल्क प्रशिक्षण देने की योजना शुरू की गई है।

ऑनलाइन पंजीकरण कराने वाले प्रशिक्षुओं के लिए समस्त प्रशिक्षण कार्यक्रम दो माह से छह माह तक अथवा न्यूनतम 260 घंटों की अवधि के रखे गए हैं। इसमें 160 घंटे मूल पाठ्यक्रम एवं 100 घंटे सॉफ्ट स्किल के होंगे।

बड़े स्तर के निजी प्रशिक्षण प्रदाताओं द्वारा हॉस्पिटैलिटी, हेल्थकेयर, रिटेल, इन्फारर्मेशन एंड कम्युनिकेशन, बैंकिंग एंड एकाउंटिंग, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग, कंस्ट्रक्शन, ऑटोमोटिव, फूड प्रासेसिंग एंड प्रिजर्वेशन, गारमेंट मेकिंग, ब्यूटी कल्चर, हेयर ड्रेंसिंग, ट्वॉय मेकिंग, मैनेजमेंट ट्रैवेल एंड टूरिज्म शामिल हैं।

इसी तरह इसके तहत फैशन डिजाइनिंग, पब्लिक एड़ामिनिस्ट्रेशन, बिजनेस एंड कॉमर्स तथा मेटैरियल मैनेजमेंट, एग्रीकल्चर, इंश्योरेन्स, टेक्सटाइल, कार्पेट, कूरियर एवं लोजिस्टिक्स, फेब्रिकेशन, इंश्योरेन्स, लेदर एवं स्र्पोर्टस गुडस, पेंट, प्लास्टिक प्रोसेसिंग, प्रिटिंग, प्रोसेस इंस्ट्रुमेंटेशन, प्रोडेक्शन एवं मैन्यूफैरिंग, रिन्यूएबल एनर्जी, रिटेल, सिक्योरिटी, टेक्सटाइल, ट्रेडिशनल आर्ट (जेम्स एंड ज्वेलरी) आदि क्षेत्र में लोगों को दक्ष करने के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कौशल विकास के लिए 64 एजेंसियों से अनुबंध