DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शान से हुआ विदा स्विट्चारलैंड

सह मेजबान स्विट्जरलैंड ने रविवार रात ग्रुप-ए के अपने अंतिम मैच में यूरो कप 2008 खिताब के दावेदारों में से एक पुर्तगाल को 2-0 से हराकर टूर्नामेंट से शान से विदा हो गया। स्विट्जरलैंड की तरफ से हाकेन याकिन ने दोनों गोल किए। याकिन ने 71वें मिनट और 83 मिनट में पेनल्टी से गोलकर अपनी टीम को जीत दिला दी। इस जीत ने स्विट्जरलैंड के कोच कोएबी कून के चेहने पर जरूर थोड़ा-सा सुकून दिया होगा जो इस मैच के बाद टीम का कोच पद छोड रहें हैं। क्वार्टर फाइनल में पहुंच चुका पुर्तगाल जहां इस मैच में अपने कई वरिष्ठ खिलाड़ियों के बिना उतरा था वहीं स्विट्जरलैंड की टीम कम से कम टूर्नामेंट में एक जीत के इरादे से इस मैच में उतरी थी। स्विट्जरलैंड को 18वें मिनट में एक शानदार मौका मिला जब नानी के फ्री किक को सेंट्रल डिफेंडर पेपे ने विपक्षी गोल को निशाना बनाकर खेला लेकिन पुर्तगाल के गोलकीपर पास्कल जूबेरभुलर ने शानदार तरीके से इसका बचाव कर लिया।ड्ढr कुछ देर बाद 53वें मिनट में सह मेजबान को एक और मौका मिला लेकिन वह फिर उसे भुना पाने में असफल रहा। आखिकार 71वें मिनट में याकिन ने गोल कर टीम को बढ़त दिला दी। इसके कुछ देर बाद 83वें मिनट में भी उन्होंने एक और गोल ठोका और टीम की जीत सुनिश्चित कर दी। दूसरी तरफ अपने कई वरिष्ठ खिलाड़ियों के बिना खेल रही पुर्तगाल की टीम इस मैच में कुछ शिथिल लगी और इसका खामियाजा उन्हें हार के रूप में चुकाना पड़ा। लेकिन इसके बावजूद पुर्तगाल के कोच स्कोलरी इससे चिंतित नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शान से हुआ विदा स्विट्चारलैंड