DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दलालों के मामले में अस्पताल प्रशासन ने खड़े किये हाथ

वाराणसी। कार्यालय संवाददाता।  मंडलीय अस्पताल में दलालों के प्रवेश पर रोक लगाने के लिए गठित दलाल उन्मूलन कमेटी समाप्त होने की कगार पर है। सक्रिय दलालों को रोकने में असमर्थ अस्पताल प्रशासन ने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ को इस बाबत अपनी समस्याएं भी गिना दी हैं। कमेटी गठित होने के बाद भी दलाल बेखौफ अस्पताल परिसर में घूम रहे हैं। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ के जिला मंत्री रंजीत कुमार ने बताया कि प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक ने लिखित सूचना दी है कि कमेटी के सदस्यों से काम नहीं कराया जा सकता।

क्योंकि उसके प्रभारी बेहोशी के डॉक्टर हैं और अन्य सदस्यों में कार्डियक विभाग के इसीजी टेक्नीशियन, पैथालाजी के टेक्नीशियन अपनी यूनिट छोड़ दलालों की धर-पकड़ नहीं कर सकते। रंजीत का कहना है कि संघ के साथ किये गये लिखित अनुबंध को दरकिनार कर दलालों को प्रश्रय देने का कार्य हो रहा है। संघ इसका विरोध करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दलालों के मामले में अस्पताल प्रशासन ने खड़े किये हाथ