DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हां, रोहित शेखर मेरा ही बेटा है: एनडी तिवारी

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एनडी तिवारी ने छह साल पुराने पितृत्व विवाद को निपटाते हुए कहा कि हां, रोहित शेखर मेरा ही बेटा है। तिवारी ने सोमवार को रोहित और उज्जवला शर्मा के साथ प्रेस कांफ्रेंस में यह ऐलान किया। हालांकि रोहित ने एनडी तिवारी की मंशा पर संदेह जताया।

वारिस का सवाल टाला: तिवारी इस सवाल को टाल गए कि रोहित उनके कानूनी वारिस होंगे या नहीं। बकौल तिवारी उनके पास रोहित को उत्तराधिकार में देने को कुछ नहीं है।

बस मेरी मां को सम्मान दें: पेशे से वकील रोहित ने कहा, ‘यह मेरे जीवन का बहुत खुशी का दिन है। मैं तिवारी से सिर्फ यही चाहता हूं कि वे मेरी मां का सम्मान करें, जिसने मेरे सम्मान के लिए लंबी और थकाऊ लड़ाई लड़ी।’

कोर्ट से बाहर समझौता: रोहित ने खुद को तिवारी का बेटा बताते हुए दिल्ली हाईकोर्ट में केस कर रखा था। 89 वर्षीय तिवारी ने रविवार को रोहित को अपने घर बुलाकर कहा कि अब वे इस लड़ाई से थक गए हैं। फिर उन्होंने कुछ जान-पहचान के लोगों की मौजूदगी में रोहित को बेटा मान लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हां, रोहित शेखर मेरा ही बेटा है: एनडी तिवारी