DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली में ‘आप’ और केजरीवाल की लोकप्रियता घटी

आम आदमी पार्टी की पकड़ दिल्ली में कमजोर पड़ती जा रही है वहीं उसके नेता अरविंद केजरीवाल की लोकप्रियता भी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में घट रही है। सीएसडीएस और सीएनएन-आईबीएन के ताजा सर्वे में ये खुलासा हुआ है। सर्वे के मुताबिक युवाओं में आप की लोकप्रियता में कमी आई है। दिल्ली में किए गए एक ओपिनियन पोल के मुताबिक जनवरी 2014 में आम आदमी पार्टी को 48 फीसदी वोट मिल रहे थे लेकिन एक महीने बाद किए गए सर्वे में आप को 35 फीसदी वोट मिल रहे हैं। यानी एक महीने में 13 फीसदी की कमी आई है। वहीं पोल के मुताबिक अगर अभी चुनाव हो जाएं तो भाजपा को मिलने वाला वोट 36 फीसदी होगा। जबकि जनवरी में कराए गए सर्वे में भाजपा को 30 फीसदी वोट मिलने का अनुमान था।

वहीं आम आदमी पार्टी को 35 फीसदी मत मिलने का अनुमान है। सर्वे के मुताबिक दिल्ली में लोकसभा चुनाव में भाजपा और आप के बीच कांटे की टक्कर रहेगी। वहीं कांग्रेस को महज 22 फीसदी वोट मिलने का अनुमान जताया गया है। सर्वे के मुताबिक ‘आप’ को दिल्ली में 2 से 4 सीटें मिलने का अनुमान है। जबकि भाजपा को भी 2 से 4 के बीच सीटें मिल सकती हैं। वहीं कांग्रेस को दिल्ली की सात सीटों में 0 से 2 के बीच सीटें मिलने का अनुमान है। सर्वे में अरविंद केजरीवाल की लोकप्रियता में कमी दिखाई गई है। सर्वे के मुताबिक दिल्ली एनसीआर और उत्तर भारत के शहरी क्षेत्र में आम आदमी पार्टी तीसरी बड़ी ताकत बन गई है। वह कांग्रेस और भाजपा का खेल बिगाड़ने में सक्षम है।

इस्तीफा देना गलत था: 50 फीसदी लोगों ने कहा है कि केजरीवाल को रेल भवन के सामने धरने पर नहीं बैठना चाहिए था। ज्यादातर लोगों का मानना था कि केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं देना चाहिए था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली में ‘आप’ और केजरीवाल की लोकप्रियता घटी