DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तोड़फोड़ के दौरान नगर निगम दस्ते पर पथराव

फरीदाबाद। वरिष्ठ संवाददाता। एनएच तीन पुलिस चौकी इलाके की कल्याणपुरी झुग्गी बस्ती में सोमवार को तोड़फोड़ से गुस्साए लोगों ने नगर निगम के दस्ते पर पथराव कर जेसीबी के शीशे तोड़ दिए। इससे चार पुलिसकर्मियों समेत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। घायलों में जेसीबी चालक, दो एएसआई व दो महिला पुलिस कांस्टेबल शामिल हैं।

अब तक पुलिस ने इस संबंध में कोई मामला दर्ज नहीं किया है। नगर निगम ने बाटा चौक पर बैठे कबाडिम्यों को कल्याणपुरी में प्लॉट अलॉट किए थे, लेकिन यहां कब्जा कर लोगों ने झुग्गी बनाई हुई हैं, जिनको हटाने के लिए निगम प्रशासन ने कार्रवाई की योजना बनाई। उसी के तहत सोमवार को नगर निगम का दस्ता डय़ूटी मजिस्ट्रेट और भारी पुलिस बल के साथ कब्जा हटाने पहुंच गया। एसडीओ अशोक रावत के नेतृत्व में नगर निगम का दस्ता सुबह साढेम् 11 बजे कल्याणपुरी पहुंच गया।

दस्ते ने करीब 8-10 निर्माण गिरा दिए। इसी बीच तोड़फोड़ से गुस्साए लोगों ने हंगामा खड़ा कर दिया। तोड़फोड़ का विरोध किया। निगम दस्ता भी पीछे नहीं हटा। माहौल काफी गर्म हो गया। देखते ही देखते स्थानीय लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। जेसीबी के शीशे तोड़ दिए। इससे उसका चालक भी घायल हो गया। लोगों के उग्र रूप को देख दस्ता और पुलिसकर्मी वहां से भाग लिए। इस पथराव में एएसआई प्रदीप, एएसआई महेंद्र, कांस्टेबल कविता व भगवती समेत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए।

खबर लिखे जाने तक पुलिस ने इस संबंध में अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया है। निगम के लिए आसान नहीं सरकारी जमीन से कब्जा हटवाना : कल्याणपुरी झुग्गी अकेली नहीं है, जो सरकारी जमीन पर बसी है। शहर में ऐसी करीब 66 बस्तियां करीब तीन सौ एकड़ में हैं। जिनको हटाने या फिर वहां बसे लोगों को दूसरी जगह स्थानांतरित करने की योजनाएं कई बार बनाई जा चुकी हैं। लेकिन अपेक्षित कामयाबी जिला प्रशासन को नहीं मिल पा रही है।

राहुल कॉलोनी के लोगों को डबुआ कॉलोनी में जवाहर लाल नेहरू नेशनल अर्बन रिन्यूवल मशिन के तहत बनाए गए आशियाना में शिफ्ट करने के लिए कई बार प्रयास किए गए, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। नतीजतन करोड़ो रुपये की लागत से बनाए गए हजारों फ्लैट आज भी खाली हैं। बापू नगर में भी ऐसे फ्लैट बना हुए हैं, जिनमें जाने के लिए लोग तैयार नहीं हैं। एसी नगर को भी प्राइवेट पब्लिक पार्टनरशिप के तहत विकसित करने की योजना बनाई हुई हैं।

यहां भी लोग फ्लैट सोसाइटी में रहने को तैयार नहीं हैं। नगर निगम के प्रस्ताव का विरोध करते हुए इस नगर के लोगों ने उनकी ही जमीन पर नियमित करने की मांग की है। रवि सिंघला, डीटीपी, नगर निगम: झुग्गी बस्ती के लोगों का जीवन स्तर उठाने के लिए केंद्र व राज्य सरकार के साथ नगर निगम भी प्रयास कर रहा है। कई योजनाएं भी बनाई हैं। लेकिन लोग इनका विरोध कर रहे हैं, जबकि सभी योजनाएं लोगों के हित को ध्यान में रखकर तैयार की गई हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तोड़फोड़ के दौरान नगर निगम दस्ते पर पथराव