DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जाटों ने किया जाट आरक्षण का विरोध

फरीदाबाद। कार्यालय संवाददाता। जाटों को दिए जा रहे आरक्षण के विरोध में जाट ही उतर गए। सेक्टर-11 में आयोजित एक पंचायत में आए समाज के लोगों ने आरक्षण को समाप्त कर ज्ञान और अनुभव के आधार पर रोजगार देने की मांग की है। युवा जाट नेता अमरीश चौधरी ने जारी बयान में यह जानकारी दी। अमरीश चौधरी ने कहा कि जाटों को आरक्षण दिया जाना सरकार का गलत आदेश है, जिसका हम विरोध करते हैं।

उन्होंने आरक्षण नाम की चीज को ही सरकार द्वारा समाप्त कर देना चाहिए तथा अनुभव और ज्ञान के आधार पर रोजगार सहित अन्य सुविधाएं मुहैया करानी चाहिए। उन्होंने कहा कि आरक्षण के विरोध में हम सरकार को लिखित ज्ञापन सौपेंगे, जिसमें हम यह मांग करेंगे कि हमें आरक्षण की जरूरत ही नहीं है। पंचायत में उपस्थित सूरजमान ने कहा कि जल्दी ही इस आरक्षण के मुद्दे पर विशाल पंचायत की जाएगी, जिसमें जाट समुदाय के वरिष्ठ व गणमान्य लोगों की मौजूदगी में इसका विरोध जताया जाएगा।

पंचायत में राम कुमार सौरोत, गिर्राज पुजारी, जगबीर सौरोत, सूरजमान, सेवक बेड़ा, दीवान होडल, धर्म होडल, सुखीराम सौरोत करमन गांव, दीपचंद सरपंच, लोकेश नरवत नांगल जाट, हरदेव नागर नांगल जाट, मांगे राम भिडूकी, प्रदीप लांबा अमरपुर, बंसी धनखड़ मच्छगर, रनवीर धनखड़ मच्छगर सहित अन्य जाट समुदाय के लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जाटों ने किया जाट आरक्षण का विरोध