अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नौजवानों को नियोजन के लिए ट्रेनिंग

अमेरिकन इंडिया फाउण्डेशन व केप फाउण्डेशन के सहयोग से राज्य सरकार नौजवानों क ो नियोजन के लिए प्रशिक्षित करगी। अमेरिकन इंडिया फाउण्डेशन के साथ पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्िलंटन का नाम जुड़ा हुआ है। इस संस्था ने गुजरात में पुनर्वास के लिए काम किया है। केप फाउंडेशन बांगलादेश, श्रीलंका, वियतनाम, गुजरात, मुंबई,आंध्र प्रदेश में काम कर रहा है। अमेरिकन फाउण्डेशन राज्य सरकार के साथ मिलकर राज्य के सभी सात नगर निगमों और बेगूसराय नगर परिषद में ‘सवेरा बिहार में युवा नियोजन’ के माध्यम से 25 हाार नौजवानों क ो प्रशिक्षण देगा और उन्हें नियोजित कराएगा। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार का उद्देश्य पलायन क ो रोकना तथा राज्य में ही रोगार उपलब्ध कराना है।ड्ढr ड्ढr सरकार गरीबी रखा से नीचे रहने वाले युवाओं के लिए अल्पकालिक पाठ्यक्रम तैयार करगी। इन युवकों क ो बाजार की जरूरतों के आधार पर तैयार किया जाएगा। इस योजना का मूल उद्देश्य समाज की मुख्य धारा से कटे हुए युवाओं क ो मुख्य धारा से जोड़ने के साथ उन्हें रोगार उपलब्ध कराना है। पहले चरण में यह योजना पटना, भागलपुर, दरभंगा, मुजफ्फ रपुर, गया, बिहारशरीफ तथा आरा में शुरू की जाएगी। पिछले दो दशकों में बिहार से पलायन की दर 28 प्रतिशत से बढ़कर 4प्रतिशत हो गया है। लोग रोगार की तलाश में क ोलकाता, दिल्ली और मुंबई तक जाते हैं। ऐसे में 18 वर्ष से 30 वर्ष के बेरोगार युवकों क ो प्रशिक्षित कर रोगार की व्यवस्था की जाएगी। सूत्रों ने बताया कि इस योजना के लाभान्वितों का चयन नगर निकायों द्वारा तैयारी गरीबी रखा के नीचे रहने वाले लोगों की सूची के आधार पर किया जाएगा। यह योजना लगभग सौ करोड़ रुपए की होगी। इस येाजना के अर्न्तगत लाभान्वितों का चयन महिला, अशक्त, अल्पसंख्यक, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति एवं अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों में से होगा। लाभान्वितों के चयन में अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन की अहम भूमिका होगी। उसी के सहमति से सूची तैयार होगी। राज्य सरकार स्वर्ण जयंती शहरी रोगार योजना के तहत इस कार्यक्रम क ो शुरू करगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नौजवानों को नियोजन के लिए ट्रेनिंग