DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री ने दिया 1700 करोड़ की परियोजनाओं का तोहफा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को 1700 करोड़ रुपए से ज्यादा की परियोजनाओं का तोहफा देते हुए कहा कि इन योजनाओं से राज्य तरक्की की राह पर तेजी से आगे बढ़ेगा।
     
मुख्यमंत्री ने राम मनोहर लोहिया नवीन नलकूप परियोजनाओं के तहत 1820 राजकीय नलकूपों का लोकार्पण, लोक निर्माण विभाग के 27 महत्वपूर्ण मागरे और आगरा में आवास, नगर विकास तथा पर्यटन विभाग की छह परियोजनाओं का शिलान्यास किया।
     
इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रदेश के सिंचाई विभाग ने पिछले दो वर्ष में बहुत अच्छा काम किया है। उत्तर प्रदेश की सिंचाई व्यवस्था दुनिया में सबसे बड़ी है। ऐसे में यह उपलब्धि और भी विशेष हो जाती है।
     
अखिलेश ने कहा कि सरकार ने सभी जिला मुख्यालयों को फोरलेन सड़कों से जोड़ने के लिये एक विस्तृत कार्यक्रम तैयार किया है और ऐसी सड़कों के निर्माण का काम भी तेजी से हो रहा है। इन योजनाओं से राज्य तरक्की की राह पर तेजी से आगे बढ़ेगा।
     
मुख्यमंत्री ने लखनऊ स्थित गोमती बैराज को किसी अन्य स्थान पर ले जाने तथा रामपुर में एक नया बैराज बनाने की घोषणा भी की। लोकनिर्माण एवं सिंचाई मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सिंचाई व्यवस्था दुनिया की सबसे बड़ी व्यवस्था है। प्रदेश में सर्वाधिक 74 हजार किलोमीटर लम्बी नहर प्रणाली से 72 हजार एकड़ क्षेत्र की सिंचाई होती है। सूबे में अगले तीन साल में तीन हजार नये नलकूप लगाये जाएंगे।
     
उन्होंने कहा कि अक्सर सूखे से प्रभावित रहने वाले प्रदेश के बुंदेलखण्ड इलाके में भी सिंचाई की योजनाएं शुरू हो चुकी हैं। वहां बांधों का अधूरा काम भी तेजी से शुरू हुआ है।

प्रदेश के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने इस मौके पर कहा कि आज जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया उनमें 1820 राजकीय नलकूपों की स्थापना में 307 करोड़ रुपए खर्च किये गये हैं।
     
उन्होंने बताया कि इसके अलावा लोकनिर्माण विभाग द्वारा प्रदेश के 541 किलोमीटर के 27 महत्वपूर्ण मार्ग को चौड़ा तथा सुदढ़ किया जाएगा। इस पर 980 करोड़ रुपए खर्च होंगे। उस्मानी ने बताया कि आगरा इनर रिंग रोड परियोजना का शिलान्यास भी किया गया है। उबेरपुर से फतेहाबाद के बीच बनने वाले 11 किलोमीटर के इस रिंग रोड का निर्माण आगरा विकास प्राधिकरण द्वारा 306 करोड़ रुपए की लागत से कराया जाएगा। इस सड़क के बन जाने से दिल्ली से आगरा आने वाले पर्यटकों को काफी सुविधा होगी।
     
ताजगंज क्षेत्र में सौंदर्यीकरण और विकास का कार्य भी 108 करोड़ रुपए की लागत से होगा। इसके लिये किसी प्रतिष्ठित एजेंसी को चयनित किया जाएगा। कार्यक्रम को वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री आजम खां और पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने भी सम्बोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुख्यमंत्री ने दिया 1700 करोड़ की परियोजनाओं का तोहफा