DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेटी को मारकर पिता ने दे दी जान!

जमशेदपुर संवाददाता। डिमना लेक से शनिवार को मिले दोनों शव डिमना क्षेत्र की रिपीट कॉलोनी निवासी उमेश यादव (35) और उसकी बेटी ज्योति कुमारी (10) के थे।

उमेश ट्रक चालक था और भाई से झगड़े के बाद वह मंगलवार को बेटी समेत घर से भाग गया था। पुलिस ने आशंका जताई है कि घर से भागने के बाद उसने पहले अपनी दस साल की बेटी को नदी में डुबोकर मारा। उसके बाद खुद नदी में डूबकर जान दे दी।

पिता-पुत्री के घर की पहचान होने के बाद बोड़ाम पुलिस उसके घर गई और तहकीकात की। मंगलवार को हुआ था झगड़ापुलिस के अनुसार मंगलवार को उमेश ट्रक से पत्थर लेकर गया से अपने मानगो रिपीट कॉलोनी (सिदो-कान्हू स्कूल के सामने) स्थित घर आया।

उसी शाम उसने अपने घर की आंगन में बैठकर उसने शराब पी और अनाप-शनाप बोलने लगा। वहीं, उसका बड़ा भाई मुकेश यादव भी था। उसने अपने भाई की इस हरकत का विरोध किया। इस पर दोनों भाइयों के बीच हाथापाई हो गई।

इसी गुस्से में उमेश ने अपना मोबाइल फोन पटककर तोड़ दिया और बेटी को लेकर घर से निकल गया। इस तरह की हरकत उमेश अक्सर करता था। इसलिए परिजनों ने उसके बाद उसकी खोज खबर नहीं ली। मुकेश भी ट्रक चालक है।

उमेश के भागने के बाद मुकेश ट्रक लेकर पटना चला गया। डिमना लेक में मिले शवशनिवार दोपहर लोगों ने डिमना लेक में मिर्जाडीह के समीप दो शव देखे। पुलिस ने शवों को पोस्टामार्टम के लिए भेज दिया।

हिन्दुस्तान में खबर प्रकाशित होने के बाद उमेश के परिजन पोस्टमार्टम हाउस गए और शव की शिनाख्त की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बेटी को मारकर पिता ने दे दी जान!