DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देह व्यापार के धंधे में नेता व हिस्ट्रीशीटर भी

वाराणसी कार्यालय संवाददाता। नाबालिग को खरीदने की आरोपित महिला गोल्डी का संगठित गिरोह है। इस गिरोह में स्थानीय स्तर के कुछ नेता भी शामिल हैं। गिरोह की संचालिका गोल्डी के साथ गिरफ्तार सौरभ सिंह भेलूपुर क्षेत्र की एक महिला नेता का करीबी है। उसने कुछ हिस्ट्रीशीटरों का भी नाम बताया है।

मऊ कोतवाली पुलिस ने शनिवार की रात सगिरा पेट्रोल पम्प के पास से 12 वर्षीय लड़की को गिरोह के कब्जे से मुक्त कराने के साथ महिला गोल्डी और उसके कथित भाई सौरभ सिंह को गिरफ्तार किया था।

इसके बाद सगिरा थाने लायी गयी बालिका ने बताया कि गोल्डी के गिरोह में दो दर्जन से अधिक महिलाएं व पुरुष हैं। नगर निगम कार्यालय के पीछे तीन कमरों के आवास में देह व्यापार और खरीद बिक्री का धंधा काफी समय से चल रहा था।

इसमें सगिरा थाने के कुछ पुलिसकर्मियों की भूमिका संदिग्ध है। बालिका ने यह भी बताया कि गिरफ्तारी के वक्त गोल्डी के आवास में तीन लड़कियां और कुछ पुरुष मौजूद थे। वह उसी की तरह खरीदकर लायी गयी एक और लड़की को मुक्त कराने की गुहार लगाती रही।

सगिरा पुलिस ने तत्काल दबशि देने की कोशशि नहीं की। थाने में ही पुलिस व मीडियावालों के सामने गोल्डी मोबाइल से कॉल कर अपने यहां मौजूद लोगों को ट्रेन से भाग जाने की बात कहती रही। फिर भी कार्रवाई नहीं हुई। गिरफ्तारी के बाद भी बेखौफ होकर गोल्डी ने पुलिसवालों के सामने ही कहती रही कि वह 15 लड़कियों खरीद-बिक्री कर चुकी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देह व्यापार के धंधे में नेता व हिस्ट्रीशीटर भी