DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वोटर आईडी के बदले हो रही धन उगाही

मुबारकपुर। हिन्दुस्तान संवाद। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जहां शासन व प्रशासन वोटरों को शत-प्रतिशत वोटर आईडी उपलब्ध कराने के लिए जोर-शोर से अभियान चलाकर जोड़ने का काम कर रहा है। वहीं इस कार्य में लगे कर्मचारी इसे कमाई का जिरया बना लिये है। ऐसा ही इन दिनों अमिलो गांव में देखने को मिल रहा है, जहां वोटर आईडी के बदले वोटरों से धन उगाही का मामला प्रकाश में आया है।

सिठयांव ब्लाक के अमिलो सहित आस-पास के ग्रामीणांचलों में प्रारुप-6 भरकर वोटरों को वोटर आईडी उपलब्ध कराने के लिए बूथ लेवल अधिकारी लगाये गये हैं। जिंनके पास वोटरों की वोटर आईडी बनकर पहुंच भी गई है। वोटर आईडी उपलब्ध कराने के बदले बीएलओ 40 से 50 रुपये प्रित वोटर आईडी वसूला जा रहा है। अमिलो गांव के मुहल्ला रसूलपुर व नेवादा के बशर, जमील अहमद, मुहम्मद अजमल, मुहम्मद आमिर आदि वोटरों ने बताया कि उनके मुहल्ले में बीएलओ वोटर आईडी देने के बदले हमसे 40 से 50 रुपये ले रहे हैं।

जो लोग रुपये नहीं दे रहा है, उनको वोटर आईडी देने में हीलाहवाली की जा रही है। इस संबंध में बीएलओ चंदा देवी ने बताया कि उनके ऊपर लगाया गया आरोप निराधार है। वह बिना भेदभाव व बिना पैसे की मांग किये बगैर नि:शुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है। वहीं उपजिलाधिकारी सदर मनोज सिंह ने इस बाबत पूछने पर कहा कि इस तरह की कोई भी अनियमितता की शिकायत मिलती है तो दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वोटर आईडी के बदले हो रही धन उगाही