DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जंगल में रात में बस से उतारा यात्रियों को

बड़ौत। शनिवार को देर रात बड़ौत से बुढाना के लिए चली रोडवेज की बस को तेल खत्म हो जाने के कारण चालक व परिचालक ने बीच रास्ते में ही रोक दिया और बस में सवार यात्रियों को जंगल में ही उतार दिया। यात्रियों का आरोप है कि जब परिचालक से किराया वापस मांगा गया तो उन्होंने यात्रियों के साथ न केवल अभद्रता की बल्कि उनके साथ मारपीट पर भी उतारू हो गए।

शनिवार को देर रात लगभग आठ बजे बड़ौत डिपो की एक अनुबंधित बस बड़ौत से लगभग 20 सवारी लेकर बुढ़ाना के लिए चली थी। जब यह बस बिजरौल व बामनौली के बीच पहुंची तो चालक ने अचानक बस रोक दी । चालक ने बताया कि तेल खत्म हो गया है। उसने कहा कि तेल खत्म हो जाने के कारण बस आगे नही जा सकती है।

परिचालक ने यात्रियों को बीच रास्ते में ही जंगल में उतार दिया। जब यात्रियों ने परिचालक को किराये के पैसे वापस लौटाने के लिए कहा तो उसने पैसे लौटाने से मना कर दिया तथा चालक व परिचालक यात्रियों के साथ मारपीट पर उतारू हो गए ।

चालक व परिचालक की मनमानी के चलते यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा और यात्री रात्रि में ट्रक आदि वाहनों से रवाना हुए। यात्रियों ने इस संबंध में सोमवार को एआरएम से शिकायत करने का निर्णय लिया है। बस में भगत सिंह, परमवीर, सुरेश,अरूण, अनुज, इकबाल व महेंद्र आदि यात्री सवार थे। यह सब बड़ौत से बुढ़ाना जा रहे थे।

इस संबंध में स्टेशन प्रभारी अजयराज सक्सेना का कहना है कि उन्हें इसकी कोई जानकारी नही है। यदि कोई शिकायत मिलती है तो इसकी जांच की जाएगी और यदि घटना की पुष्टि होती है तो चालक व परिचालक के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जंगल में रात में बस से उतारा यात्रियों को