DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी बोर्ड का महाकुंभ आज से, प्रशासन की होगी परीक्षा

मथुरा। निज संवाददाता। यूपी बोर्ड की परीक्षाओं को महाकुंभ आज से शुरु हो रहा है। जिंले में बनाये गये 196 परीक्षा केन्द्रों पर एक लाख 19581 हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। बोर्ड परीक्षा के साथ ही पुलिस प्रशासन की भी परीक्षा होगी। नकल विहीन परीक्षा कराये जाने को लेकर पुलिस प्रशासन ने पूरी ताकत झौक दी है।

परीक्षा केन्द्रों पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात रहेगा। उपद्रव करने वालों को सख्ती से निपटने के एसएसपी ने निर्देश जारी कर दिये हैं। माध्यिमक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटर मीडिएट की बोर्ड परीक्षा सोमवार से शुरु हो रही हैं।

परीक्षाओं को नकलविहीन, शांतिपूर्वक रूप से कराये जाने को लेकर पुलिस प्रशासन ने भी पूरी तैयारी कर ली है। संवेदन-अतिसंवेदनशील केन्द्रों पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही हर केन्द्र पर पुलिसबल मौजूद रहेगा।

सोमवार से शुरु होकर 4 अप्रैल तक चलने वाली बोर्ड परीक्षाओं को जिले को आठ जोन, 29 सैक्टरों में बांटते हुए सभी केन्द्रों पर पर्याप्त पुलिस बल लगाने की व्यवस्था की है।

एसओ-सीओ मोबाइल में रहेंगे, जबकि परीक्षा केन्द्र के बाहर किसी भी बाहरी तत्व को पास तक नहीं भटकने दिया जाये। जिले के 196 परीक्षा केन्द्रों पर एक लाख 19 हजार 581 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। इनमें हाईस्कूल की परीक्षा में 67009 परीक्षार्थी तो इंटरमीडिएट की परीक्षा में 52572 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे।

पहले दिन हाईस्कूल की हिन्दी, इंटर की सैन्य विज्ञान व हिन्दी की परीक्षा सोमवार से यूपी बोर्ड की परीक्षा शुरु हो रही है। नकल विहीन परीक्षा कराने को लेकर पुलिस-प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं।

सोमवार को पहली पाली में प्रात: साढ़े सात बजे से हाईस्कूल की प्रथम पाली में हिन्दी प्रश्नपत्र,प्रारिंभक हिन्दी, इंटर मीडिएट की प्रथम पाली में सैन्य विज्ञान प्रथम, द्वितीय पाली में हिन्दी प्रथम व सामान्य हिन्दी प्रथम की परीक्षा होगी।

विद्यालय संचालकों से लेकर केन्द्र व्यवस्थापकों ने भी तैयारी कर ली है।

पहले दिन कक्ष निरीक्षक-पुलिस कर्मियों को हो सकता है टोटाः यूपी बोर्ड की सोमवार से हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा शुरु हो रही हैं। इसके लिये पुलिस प्रशासन के साथ ही शिक्षा विभाग ने भी परीक्षा की तैयारी पूरी कर ली हैं, लेकिन पहले दिन की परीक्षाओं में कक्ष निरीक्षक व पुलिस कर्मियों की कमी हो सकती है,हालांकि पहले दिन परीक्षा भले ही हिन्दी की है, लेकिन इसके लिये भी सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही परीक्षाओं को सुचिता पूर्वक कराने को कक्ष निरीक्षकों की जरुरत है।

लेकिन सूची में कक्ष निरीक्षकों के समय से पहुंचने की संभावना कम प्रतीत हो रही है। इसका कारण कक्ष निरीक्षकों को समय से ड्म्यूटी कार्ड नहीं पहुंचना बताया जा रहा है तो कुछ केन्द्रों पर तकनीकी कमी के चलते कुछ शिक्षकों की डय़ूटी में अलग तो कार्ड में अलग कक्ष निरीक्षक लग गये हैं।

बोर्ड परीक्षा: आठ जोन, 29 सैक्टरों में बांटा जिंला यूपी बोर्ड परीक्षा की परीक्षाओं को नकल विहीन व सुचिता पूर्वक कराये जाने को लेकर जिलाधिकारी विशाल चौहान ने जिले को आठ जोन, 29 सैक्टरों में बांटा है।

संवेदन-अतिसंवेदनशील केन्द्रों को भी चिन्हित कर लिया गया है। इन केन्द्रों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेटों की डय़ूटी लगाकर परीक्षा करायी जायेंगी। परीक्षा के दौरान जोनल अधिकारी के साथ ही सैक्टर मिजस्ट्रेट भी भ्रमणशील रहते हुए परीक्षा केन्द्रों पर नजर रखेंगे। वहीं जिंले भर में 72 संवेदनशील व अतिसंवेदनशील केन्द्र भी चिन्हित कर दिये हैं। इन पर स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की डय़ूटी लगायी जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी बोर्ड का महाकुंभ आज से, प्रशासन की होगी परीक्षा