DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लड़कर लेंगे विशेष दर्जा : नीतीश

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आज न कल हम बिहार के लिए विशेष राज्य का दर्जा लड़कर हासिल करेंगे। वह शनिवार को यहां गांधी मैदान में डेस्टिनेशन बिहार एक्सपो-2014 के उद्घाटन के मौके पर बोल रहे थे।

इसका आयोजन बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन (बीआईए) ने किया है। श्री कुमार ने बिना नाम लिए भाजपा पर निशाना साधा कि कुछ लोग इस मामले में झूठा आश्वासन दे रहे हैं कि हम दिलवाएंगे दर्जा। ‘वे’ लोगों को बांटना चाहते हैं। उनसे सतर्क रहना है। बचना है।

बिहार को विशेष दर्जा मिले तो इसे 10 साल तक केंद्रीय करों में छूट यानी टैक्स होलीडे का लाभ मिलेगा। इसका एक फायदा यह भी होगा केंद्रीय योजनाओं में बिहार को मात्र 10 फीसदी राशि ही लगानी होगी।

शेष 90 फीसदी केंद्र का होगा। हम इसीके लिए विशेष दर्जे के लिए संघर्ष कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि बिहार के मामले में केंद्र भेदभाव कर रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के कहने पर प्रधानमंत्री ने सीमांध्र को 24 घंटे में विशेष दर्जा दे दिया।

यहां हम वर्षो से लड़ाई लड़ रहे हैं और अतिपिछड़ा समेत तमाम मानकों पर खरा उतरने के बाद भी दर्जा नहीं मिल रहा है। इसीलिए हम सत्याग्रह कर रहे हैं। थाली पीटकर अपना अग्रह केंद्र तक पहुंचाएंगे।

वह खुद रविवार को गांधी मैदान में इस मुद्दे पर दिन भर सत्याग्रह पर बैठेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार सूबे में उद्योगों के विकास को प्रयत्नशील है। उद्योग-व्यवसाय आयोग के बनने से उद्यमियों को अपनी बात रखने और उस पर सरकार के स्तर से निर्णय लेने में मदद मिलेगी।

सरकार मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र के लिए टास्क फोर्स बना रही है। इसमें उद्योग प्रतिनिधि भी शामिल होने चाहिए। प्राइवेट इंडस्ट्रियल एरिया को प्रमोट किए जाने से बिहार में इंडस्ट्री लगाने में सहूलियत होगी।

इसके लिए नीति बन गई है। प्रमुख शहरों में बनने वाले ऐसे क्षेत्र से होने वाले लाभ, करों में रियायत आदि के बारे में उद्यमियों को बताना चाहिए। उनको बताया गया है कि इस बार यहां एक्सपो में 220 स्टाल लग रहे हैं।

यह पिछली बार के 120 से 100 अधिक है। वहीं 100 उद्यमी स्टाल के लिए इंतजार कर रहे हैं। जगह कम पड़ गई है। खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्याम रजक ने कहा कि बिहार में माहौल बना है।

बाहर के उद्यमी यहां आ रहे हैं। इस क्षेत्र में भी बिहार वशि्वगुरु बनेगा। बीआईए के अध्यक्ष अरुण अग्रवाल ने एसोसिएशन द्वारा बिहार हित में आयोजित ‘बंद’ का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि रविवार के सारे कार्यक्रम स्थगति रहेंगे।

उन्होंने सरकार से 10 एकड़ का प्लाट उद्योग मेला या इस तरह के एक्सपो, प्रदर्शनी आदि के आयोजन के लिए देने, इस जमीन पर ट्रेड फेयर अथॉरिटी विकसित करने की मांग की। मौके पर आरबीआई के क्षेत्रीय निदेशक एमके वर्मा, उद्योग विभाग के प्रधान सचवि नवीन वर्मा, बीआईए के पूर्व अध्यक्ष केपीएस केसरी, एसपी सिन्हा, बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पीके अग्रवाल और पूर्व अध्यक्ष ओपी साह मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लड़कर लेंगे विशेष दर्जा : नीतीश