DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफसरशाही की पेंच में फंसा मदरसा शिक्षकों का वेतन :

पटना। ऑल बिहार मदरसा टीचर्स एसोसिएशन ने राज्य के मदरसा शिक्षकों के लिए लागू छठे वेतनमान के अनुसार जल्द वेतन भुगतान की मांग की है। संघ ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री की घोषणा के बावजूद शिक्षा विभाग के अफसर वेतन देने में अड़ंगा लगा रहे हैं। पिछले छह माह से कई मदरसों के शिक्षकों को वेतन नहीं मिल रहा है। ये बातें संघ के अध्यक्ष मो. जहिरुल हक व सचवि मो. शहाबुद्दीन रहमानी ने शनिवार को प्रेस वार्ता में कहीं।

रहमानी ने बताया कि राज्य के 2460 मदरसा शिक्षकों में से मात्र 205 मदरसों के शिक्षकों का ही वेतन भुगतान हुआ है। जिन 737 मदरसे को मदरसा बोर्ड ने जांच के बाद सरकार को भेजा है उनपर आजतक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

संघ ने जहिरुल हक को बधाई दी। थाईलैंड के बैंकाक में ग्लोबल एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित होकर लौटे संघ के अध्यक्ष मौलाना जहिरुल हक को संघ ने बधाई दी। 12 जिलों से आए संघ के सदस्यों ने उनको बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने न सिर्फ मदरसों का बल्कि बिहार का गौरव बढ़ाया है।

बधाई देने वालों में मो. शहाबुद्दीन रहमानी, निसार आलम, गुलाम मुस्तफा, नूर मो. अंसारी, मो. महबूब आलम, मुमताज अहमद, उमर फारुख, मो. रज्जाक, मो. इजहार व मो. नूर अहमद शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफसरशाही की पेंच में फंसा मदरसा शिक्षकों का वेतन :