DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बदलते बिहार की झलक दिखी एक्सपो-2014 में

कार्यालय संवाददाता पटना। गांधी मैदान में लगे डेस्टिनेशन बिहार एक्सपो-2014 बदलते बिहार की तस्वीर बयां कर रही है। स्वयं सहायता समूह बैंकिंग सेक्टर, मोटरगाड़ी उद्योग, रियल स्टेट या फिर राज्य के उद्यमियों द्वारा बनाये गये नये-नये उपकरण। सभी एक जगह देखने को मिल रहे हैं। एक ओर स्टॉलों पर उपकरणों के खासियत बताए जा रहे हैं तो दूसरी ओर लजीज बिहारी व्यंजन के साथ टेराकोटा की बेहतरीन सामान से सजे स्टॉलों पर लोगों की काफी भीड़ देखी जा रही है।

इसके अलावे बांस और जुट की बनी टोकड़ी, शादी-वविाह में प्रयोग करने के सामान और घर सजाने की वस्तुएं मिल रही हैं। एक्सपो के पहले दिन लोगों की काफी भीड़ देखी गई। लोगों की उत्सुकता देखते बन रही थी। एक्सपो में 220 स्टॉल लगाये गये हैं। हालांकि अभी पूरे स्टॉल नहीं लग पाये। किसी स्टॉल पर सरकारी योजनाओं की जानकारी दी जा रही है तो किसी पर ज्वेलरी को किस्तों में खरीदने से होने वाले लाभ के बारे बताने के लिए तनिष्क की ओर से एक स्टॉल लगाया गया है।

बिहार में पहली बार सीमेंट की ईंट का प्रचार किया गया है। इस ईंट की खासियत यह है कि इससे पर्यावरण संरक्षण एवं कृषि योग्य भूमि की बचत होती है। यह ईंट सिर्फ सीमेंट, बालू ओर फ्लाई एस से बनायी गई है। इसके अलावे आरा गार्डेन के बारे में बताया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बदलते बिहार की झलक दिखी एक्सपो-2014 में