DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विभिन्न संगठनों के शिक्षक जुटे, आंदोलन में तब्दील हुआ आक्रोश

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता। महीनों से न्याय की मांग कर रहे शिक्षकों का आक्रोश अब आंदोलन में तब्दील होने लगा है। शनिवार को दिन भर विभिन्न शिक्षक संगठनों का धरना-प्रदर्शन चलता रहा। अपनी मांगों को लेकर शिक्षकों ने डीपीओ स्थापना कार्यालय का घेराव किया।

डीएम और एसपी कार्यालय में भी गुहार लगाई। अंतत: शिक्षा विभाग के अधिकारियों और प्रशासन से जल्द कार्रवाई का आश्वासन मिलने पर शिक्षकों ने अपना प्रदर्शन खत्म किया। शनिवार को शिक्षकों के सम्मान को लेकर नियोजित और नियमित शिक्षक एक मंच पर जुटे।

परविर्तनकारी प्रारम्भिक शिक्षक संघ और शिक्षक सम्मान बचाओ मोर्चा के नेतृत्व में सैकड़ो शिक्षकों ने खुदीराम बोस स्टेडियम से जुलूस निकाल डीएम कार्यालय पहुंचे। शिक्षकों पर हुए हमला के आरोपियों पर कार्रवाई और अन्य मांग को लेकर शिक्षकों ने यहां प्रदर्शन किया।

इसके बाद शिक्षकों ने एसपी कार्यालय में आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग का ज्ञापन सौंपा। इसके बाद शिक्षक प्रदर्शन करते हुए डीपीओ स्थापना कार्यालय पहुंचे। घंटों कार्यालय का घेराव कर कार्रवाई और न्याय की मांग पर अड़े रहे।

शिक्षक बच्चा प्रसाद सिंह, मोहन कुमार, वंशीधर व्रजवासी, मायाशंकर कुमार, राजीव कुमार, ललित नारायण आदि ने कहा कि एक साजशि के तहत कुछ शिक्षक नेताओं ने शांतिपूर्ण धरना पर बैठे शिक्षकों पर हमला करवाया, मगर प्रशासन और शिक्षा विभाग के अधिकारी दोनों चुप हैं।

नियोजित शिक्षकों को समय पर वेतन देने, डीपीई प्रमाण पत्र देने की मांग करते हुए शिक्षकों ने कहा कि अगर एक सप्ताह के भीतर इन समस्याओं का समाधान नहीं किया जाता है तो अगले सप्ताह से शिक्षा विभाग के सभी कार्यालयों में तालाबंदी की जाएगी।

देर शाम डीईओ मुस्तफा मंसूरी और डीपीओ स्थापना द्वारा कार्रवाई करने के आश्वासन के बाद शिक्षकों ने प्रदर्शन खत्म किया। आरोपित शिक्षकों से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। इसके साथ ही एक सप्ताह के अंदर इनका वेतन और प्रमाण पत्र मुहैया कराया जाएगा। अब्दुससलाम अंसारी, डीपीओ स्थापना।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विभिन्न संगठनों के शिक्षक जुटे, आंदोलन में तब्दील हुआ आक्रोश