DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अल्पसंख्यकों को रिझा रहा राजद

राजद अल्पसंख्यकों को रिझाने में जुटा है। पहले से ही अल्पसंख्यक हितों की बात पर पार्टी नेताओं ने जोर दिया है। 21 मार्च को न्याय मार्च निकालने की तैयारी है। कार्यक्रम की सफलता के लिए पार्टी कार्यालय में आबिद अली की अध्यक्षता में बैठक हुई।ड्ढr इसमें नेताओं ने कहा कि कोड़ा सरकार अल्पसंख्यक हितों तथा मुद्दों को गंभीरता से ले। सिर्फ आश्वासन देने से काम नहीं चलेगा। मनोहर यादव ने कहा कि पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद ने भी सरकार से अल्पसंख्यक हितों पर प्राथमिकता के आधार पर काम करने को कहा है, लेकिन सरकार का रवैया ठीक नहीं है।ड्ढr अल्संख्यक वित्त निगम, वक्फ बोर्ड, हैंडलूम बोर्ड, ऊर्दू एकेडमी के गठन समेत अन्य मांगों को लेकर राजद मुखर हुआ है।ड्ढr बैठक में मंजर अमीन, डॉ जफीरुला सादिक, शफीक आलम, इब्राहिम खान, मुस्तफा अंसारी, शफी खान, शमीम भारती, फिरो खान, मोहसिन अंसारी, गुलशन अली, रामकुमार यादव, प्रणय कुमार बबलू, रसीद आलम, नुरुामा, फिरो अंसारी, इकराम खान, डॉ मनोज कुमार आदि शामिल थे।ड्ढr हक के लिए अकलियत कमेटी की बैठकड्ढr अकलियतों को हक और इंसाफ दिलाने के लिए राजद अकलियत कमेटी की बैठक मंजर अमीन की अध्यक्षता में हुई। बरियातू में हुई बैठक में 21 जून को न्याय मार्च की सफलता पर जोर दिया गया। नेताओं ने सरकार के रवैये पर नाराजगी जतायी। बैठक में एकराम खान, अवतार सिंह भाटिया, मुस्ताक अहमद, अब्दुल मजीद, मो निसार अहमद, मो नइम, शौकत हुसैन, प्रो मंजूर अहमद, मो फिरो आलम, शकील अहमद असांरी, मंसूर अहमद, हातिम अंसारी, मो शमीम, मो निजामुद्दीन आदि उपस्थित थे।ड्ढr मानसिक दिवालियापन बतायाड्ढr भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष अविनेश कुमार ने कहा कि योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलुवालिया का बयान उनकी मानसिक दिवालियापन को घोतक है। अहलुवालिया ने कहा है कि जनता को तो महंगाई झेलनी ही पड़ेगी।ड्ढr अविनेश ने कहा है कि अहलुवालिया को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अल्पसंख्यकों को रिझा रहा राजद