DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस के लाठीचार्ज के विरोध में डॉक्टरों की हड़ताल

सपा विधायक के साथ मारपीट के बाद गणेश शंकर विद्यार्थी मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टरों और मेडिकल छात्रों पर पुलिस द्वारा लाठी चार्ज किये जाने तथा छात्रों को गिरफतार किये जाने के विरोध में आज इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के आहवान पर शहर के मेडिकल कॉलेज समेत सभी प्राइवेट डॉक्टर तक आज से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गये हैं ।
    
मेडिकल कॉलेज में आईसीयू से लेकर सीसीयू, कार्डियालोजी समेत सभी इमरजेंसी सेवायें ठप्प हैं। शहर में प्राइवेट नर्सिंग होम और पैथोलॉजी भी बंद हैं।
आईएमए की अध्यक्ष और गणेश शंकर मेडिकल कॉलेज की मेडिसिन विभाग की प्रमुख डा आरती लाल चंदानी ने कहा कि पुलिस ने बर्बरता से जूनियर डाक्टरों और मेडिकल स्टूडेंट को पीटा जो कि निंदनीय है।
    
उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने सीनियर डाक्टरों के साथ भी अभद्रता की और मेडिकल छात्राओं को भी नही बख्शा। उनका कहना है कि उनके 400 मेडिकल छात्र छात्रायें और जूनियर डॉक्टर घायल हैं जिसमें से करीब एक दर्जन गंभीर रूप से घायल हैं। चंदानी ने आरोप लगाया कि पुलिस ने लड़कियों के छात्रावास में घुस कर उनसे अभद्रता की। लड़कों के छात्रावास के एक एक कमरे से छात्रों को निकाल कर उन्हें पीटा गया।
    
आईएमए अध्यक्ष डा चंदानी ने दावा किया कि कानपुर मेडिकल कालेज में हुई इस घटना के विरोध में प्रदेश के सभी मेडिकल कालेजों के डाक्टर आज से हड़ताल पर हैं। उन्होंने सभी गिरफ्तार 40 जूनियर डाक्टरों की रिहाई, उनके खिलाफ मामले वापस लेने और घायल जूनियर डाक्टरों का इलाज कराने की मांग की। आईएमए ने पूरी घटना का विवरण प्रदेश शासन को भी भेजा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पुलिस के लाठीचार्ज के विरोध में डॉक्टरों की हड़ताल