DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दहेज हत्या मामले में दस-दस वर्ष की कैद

हरियाणा में अतिरिक्त जिला एव सत्र जज कंचन माही की अदालत ने दहेज हत्या के जुर्म में पति सहित तीन लोगों को दोषी करार देते हुए आज इन्हें दस-दस वर्ष की कैद तथा छह-छह हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।

इस मुकदमे में दो अन्य आरोपियों के नाबालिग होने के कारण उनका मामला बाल अदालत में विचाराधीन है। अभियोजन पक्ष के अनुसार अमरगढ़ गांव के प्रेमचंद ने 19 अक्तूबर 2012 को पुलिस को दी शिकायत में कहा था कि उसकी बेटी सोनिया की शादी आठ फरवरी 2012 को अजमेर बस्ती निवासी मनदीप के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही सुसराल वाले सोनिया पर अधिक दहेज लाने के लिए दबाव डालने लगे। डिमांड पूरी न होने पर उन्होंने षडयां के तहत सोनिया की हत्या कर फांसी पर लटका दिया गया। 

सोनिया का शव 19 अकटूबर 2012 को फंदे पर लटकता पाया गया था। मृतका के मायका पक्ष ने सोनिया की मौत पर संदेह जताते हुए हत्या का आरोप लगाया था। जिस पर पुलिस ने मृतका के पिता की शिकायत पर सोनिया के पति मनदीप, देवर संदीप, ससुर पालेराम तथा सास रामपति तथा एक अन्य के खिलापक दहेज हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया था। तभी से मामला अदालत में चल रहा था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दहेज हत्या मामले में दस-दस वर्ष की कैद