DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निजी क्षेत्रों में आरक्षण लागू होना चाहिए : मोदी

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों के लिए संसद, विधानसभाओं और नौकरियों में तब तक आरक्षण जारी रहना चाहिए जब तक कि समाज से गैर बराबरी और विभेद खत्म न हो जाए। 

मोदी शुक्रवार को यहां भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि क्रीमी लेयर पर चर्चा करने का वक्त अभी नहीं आया है। अनुसूचित जाति और जनजातियों के लिए निजी क्षेत्रों में आरक्षण लागू होना चाहिए।

भाजपा सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि इस वर्ग के नौजवानों को कौशल विकास के लिए प्रषिक्षण देने की जरूरत है ताकि कम पढ़े-लिखे नौजवान भी छोटे-मोटे काम करके रोजी-रोटी कमा सके। वरिष्ठ दलित नेता उदय राज ने कहा कि अनुसूचित जातियों में अनेक उपजातियां हैं।

इन उपजातियों के अनेक समुदाय काफी पिछड़े हुए हैं। ऐसी उपजातियों के विकास के लिए विशेष योजना बनाने की जरूरत है। दो दिवसीय इस बैठक में कई प्रदेशों से प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

‘दलित सम्मान-राष्ट्र उत्थान’ के नारों के साथ स्थानीय दादी मां मंदिर में राजनीति, सत्ता और समाज में अनुसूचित जातियों व जनजातियों की भागीदारी पर विमर्श हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:निजी क्षेत्रों में आरक्षण लागू होना चाहिए : मोदी