DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार व पार्टी तुगलकी अंदाज में चला रहे नीतीश

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। राज्यसभा टिकट से इस बार वंचित किए गए सांसद शिवानंद तिवारी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर शुक्रवार को काफी तीखी टिप्पणी की। जदयू से निष्कासन के बाद यह उनकी पहली प्रतिक्रिया है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सरकार और पार्टी दोनों तुगलकी अंदाज में चला रहे हैं।

इसी चुनाव में यह तय हो जाएगा कि जनता तानाशाही पसंद करती है या लोकशाही। अपने खिलाफ हुई कार्रवाई पर शिवानंद तिवारी ने कहा कि राजगीर शिविर में अपने भाषण के बाद से ही वह कार्रवाई के लिए तैयार बैठे थे।

शिवानंद ने कहा कि नीतीश कुमार भगवान बन गए हैं। उनका कहा वेद वाक्य है। पार्टी में उसी वेद वाक्य को दुहराते रहना है। अगर आपने उससे अलग कुछ कहने का दुस्साहस किया तो फिर पार्टी में कैसे रह सकते हैं? मैंने कुछ अलग बोला तो तय था कि इसका खामियाजा मुझे भुगतना होगा, लेकिन मैं अपने मुंह पर जाब नहीं लगा सकता।

नीतीश कुमार एक ही बात मेरे विरुद्ध कह सकते हैं कि मुझे दोबारा राज्यसभा में नहीं भेजा गया इसलिए मैं उनके खिलाफ बोल रहा हूं। लेकिन जब किंग महेंद्र राज्य सभा में दोबारा जा सकते हैं तो फिर मैं क्यों नहीं?

अगर मेरी वजह से राज्यसभा में पार्टी की प्रतिष्ठा को कोई हानि पहुंची है तो यह भी बताया जाना चाहिए। वहीं एक समाचार चैनल से बातचीत में तिवारी ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में राजद को अकेले चुनाव लड़ना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकार व पार्टी तुगलकी अंदाज में चला रहे नीतीश