DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर्मचारी संगठन रेल प्रशासन के अभिन्न अंग : जीएम

कार्यालय संवाददाता पटना। पूर्व मध्य रेल मुख्यालय में महाप्रंबधक मधुरेश कुमार की अध्यक्षता में इसीआरकेयू के सदस्यों के साथ स्थायी वार्ता तंत्र की तृतीय बैठक हुई। मुख्यालय के सभाकक्ष में दो दिवसीय बैठक के पहले दिन जीएम कुमार ने कहा कि कर्मचारी यूनियन की सकारात्मक सोच से वे काफी प्रभावित हैं। किसी भी संगठन को सुचारू रूप से चलाने तथा वाणिज्यिक लक्ष्यों को प्राप्त करने में सफलता तभी मिल सकती है जब उसका औद्योगिक संबंध मधुर तथा विकासशील भावना से युक्त हो।

कर्मचारी संगठन रेल प्रशासन के अभिन्न अंग हैं और उनके द्वारा जो मुद्दे उठाए जा रहे हैं, वह प्रशासन के लिए काफी महत्वपूर्ण होते हैं। महाप्रबंधक ने कहा कि इस वर्ष अभी तक अनुकंपा आधारित नियुक्ति के 665 मामले निपटाए गए। इसी अवधि में चतुर्थ श्रेणी में 566 तथा तृतीय श्रेणी में 51 नियुक्ति की गयी।

उन्होंने कहा कि यात्रियों, विशेषकर बीमार एवं वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए पटना एवं धनबाद स्टेशन पर एस्केलेटर लगाए गए हैं। हृदय रोगियों को उच्चस्तरीय चिकित्सा मुहैया कराने के उद्देश्य से केंद्रीय चिकित्सालय, पटना में माडय़ूलर ओटी की सुविधा शुरू की गयी है।

मुख्य कार्मिक अधिकारी केवी नगायच ने कहा कि रेल प्रशासन कर्मचारी कल्याण एवं कर्मचारी हित के लिए संकल्पित रहा है। इसमें कर्मचारी संगठनों का भी सहयोग मिलता रहा है। इसी आरकेयू के अध्यक्ष डीके पाण्डेय व महासचवि एसके पाण्डेय ने रेल महाप्रबंधक के सकारात्मक सहयोग की सराहना की।

बैठक में अजय शुक्ला, एलएम झा, जितेन्द्र कुमार, डी कामिला, अमरनाथ झा, एमके माथुर, दीपकनाथ, महबूब रब, एसके मल्लिक, राजेन्द्र सिंह, अतुल पाठक, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अमिताभ प्रभाकर, एके झा, विनम्र मिश्रा आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कर्मचारी संगठन रेल प्रशासन के अभिन्न अंग : जीएम