अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कितनी हत्याओं के बाद जागेगी सरकार: ज्यां द्रेज

नरगा सोशल ऑडिट के प्रमुख ज्यां द्रेज ने झारखंड में नरगा के बदत्तर हाल पर अफसोस जाहिर करते हुए कहा ही कि आखिर कितनी हत्या के बाद सरकार जागेगी? वे सोमवार को जिला मुख्यालय से 52 किमी दूर देवरी प्रखंड के किसगो में हिन्दुस्तान से बात कर रहे थे।ड्ढr उन्होंने कहा कि यहां नरेगा का इंफ्रास्ट्रक्चर है ही नहीं, इसके प्रावधान की धज्जियां उड़ायी जा रही है। कोई अगर ठेकेदार-बिचौलियों के नापाक गठाोड़ का विरोध करता है तो उसकी हत्या कर दी जाती है। द्रेज खटोरी गांव भी गये जहां पिछले दिनों कामेश्वर यादव की हत्या कर दी गयी। ज्यां ने कहा कि कामेश्वर का अपराध यही था कि वह नरगा में गड़बड़ी करने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने ललित मेहता की तरह कामेश्वर की हत्या की भी जांच सीबीआइ से कराने की बात कही। ललित प्रकरण पर राज्य सरकार की हरकतों से दुखी ज्यां ने कहा कि तकलीफ यह है कि गलत का विरोध करने वाले को ही कटघर में खड़ा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनके बार में तथ्यों को तोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि गिरिडीह की हालत पलामू और कोडरमा जसी ही खराब है किन्तु इससे निराश होने की आवश्यकता नहीं है। ज्यां के मुताबिक व्यक्ति का कोई भी प्रयास खाली नहीं जाता। उन्हें उम्मीद है कि नरगा को लेकर राज्य में जो अभियान शुरू हुआ है उससे माहौल बनेगा और अन्तत: गड़बड़ व्यवस्था पटरी पर आ जायेगी। ज्यां ने बताया कि कोडरमा जिले में सोशल ऑडिट का कार्य पूरा कर लिया गया है। 18 जून को मरकच्चो में जन अदालत लगायी जायेगी। उनके साथ माले विधायक विनोद सिंह, त्रृतिका खेड़ा भी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कितनी हत्याओं के बाद जागेगी सरकार: ज्यां द्रेज