DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चक्का जाम से अस्तव्यस्त हुई रेल यातायात

भागलपुर। कहलगांव और पीरपैंती में भी रेल चक्का जाम कराने पहुंचे भाजपा कार्यकर्ता सुबह साढ़े आठ बजे से ही स्टेशन पर कब्जा जमा लिया भाजपा कार्यकर्ताओं ने तमाशबीन बनी रही पुलिस, रेल पुलिस के अलावा जिला पुलिस बल की भी थी तैनाती दंडाधिकारी, सिटी डीएसपी सभी बैठे रहे वीआईपी रूम में भाजपा के बंद में रालोसपा के कार्यकर्ताओं का भी समर्थन, पहुंचे जाम करने भागलपुर, कार्यालय संवाददाताबिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर शुक्रवार को भाजपा ने जिले के तमाम प्रमुख स्टेशनों पर रेल चक्का जाम किया।

इस कारण भागलपुर रेलखंड पर कई ट्रेनें घंटों लेट चलीं। विक्रमशिला, लोकमान तिलक एक्सप्रेस समेत चार ट्रेनें भागलपुर स्टेशन पर घंटों खड़ी रहीं। कार्यकर्ताओं के आगे रेल व स्थानीय पुलिस की नहीं चली। सुबह 8.30 बजे से दिन के 1 बजे तक पुलिस स्टेशन पर तमाशबीन रही। अधिकारी वीआईपी रूम में बैठे रहे और भाजपा कार्यकर्ता पटरी से लेकर ट्रेन के ईंजन पर चढ़कर नारेबाजी करते रहे। सुबह अप ब्रह्मपुत्र मेल भागलपुर से निकल तो गई लेकिन आगे जाकर फंस गई।

बताया गया कि किउल से पटना के बीच कई जगहों पर ट्रैक जाम होने की वजह से ट्रेन आगे नहीं निकल पा रही थी। भागलपुर स्टेशन पर भाजपा कार्यकर्ता सुबह 8.30 बजे से जमा हो गए थे। इसके बाद पहली ट्रेन लोकमान तिलक एक्सप्रेस खुलने वाली थी।

भाजपा कार्यकर्ता स्टेशन में झंडा बैनर लेकर घुसे और कुछ लोग पटरी पर दरी डालकर बैठ गए तो कुछ लोग ट्रेन के ईंजन पर सवार हो गए। 10.30 बजे बांका राजेन्द्रनगर इंटरसिटी 5 नंबर प्लेटफार्म पर पहुंची तो बंद समर्थक उस ट्रेन के ईंजन पर भी जाकर जम गए।

इसके बाद वर्धमान पैसेंजर को भी रोका गया। बंद समर्थकों को देखते हुए विक्रमशिला एक्सप्रेस को प्लेटफार्म पर नहीं लाया गया। दिन में 1 बजे के बाद विक्रमशिला एक्सप्रेस को प्लेटफार्म पर लाया गया और 1.55 बजे भागलपुर से रवाना किया गया। लोकमान तिलक एक्सप्रेस और बांका इंटरसिटी एक्सप्रेस को भी 1 बजे के बाद तब खोला गया जब बंद समर्थक स्टेशन से बाहर निकल गए।

बंद के दौरान जिलाध्यक्ष नभय कुमार चौधरी, महानगर अध्यक्ष विजय साह, सांसद प्रवक्ता मृणाल शेखर, अरुण सिंह, डा. बिंदु मिश्रा, कामिनी शुक्ला, सज्जन अवस्थी, निरंजन साह, शरद वाजपेयी, विजय मानसरिया, सोमनाथ शर्मा, शशि मोदी, मोंटी जोशी, प्रमोद प्रभात, योगेश पाण्डेय, राजकिशोर सिंह, आलोक सिंह बंटू, प्रदीप जैन, पंकज कुमार सहित 50 से अधिक कार्यकर्ता मौजूद थे।

रेल चक्का जाम में रालोसपा के कार्यकर्ताओं ने भी समर्थन किया। उधर पीरपैंती में जमालपुर-मालदा इंटरसिटी एक्सप्रेस को 2 घंटे तक रोका गया जबकि मिर्जाचौकी में साहबिगंज जमालपुर पैसेंजर ट्रेन रुकी रही। कहलगांव में बंद समर्थकों को कोई यात्री ट्रेन नहीं मिली तो मालगाड़ी को ही रोक दिया।

बंद समर्थक विशेष राज्य का दर्जा के साथ-साथ भागलपुर में रेल मंडल कार्यालय बनाने की भी मांग कर रहे थे। ये ट्रेनें हुईं लेट अप विक्रमशिला एक्सप्रेस 2.45 घंटे विलंब अप लोकमान तिलक एक्सप्रेस 4 घंटे विलंब खुली बांका राजेन्द्र नगर इंटरसिटी सवा दो घंटे विलंब धुलियान पैसेंजर रद्द कर दी गई मालदा-जमालपुर इंटरसिटी 3 घंटे विलंब पहुंची डाउन विक्रमशिला एक्सप्रेस 1 बजे तक किउल नहीं पहुंची थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चक्का जाम से अस्तव्यस्त हुई रेल यातायात