DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली बनी चैंपियन, जीते ढाई करोड़

दिल्ली बनी चैंपियन, जीते ढाई करोड़

दिल्ली वेवराइडर्स ने बेहद रोमांचक संघर्ष में पंजाब वॉरियर्स को पेनल्टी शूटआउट में रविवार रात 3-1 से हराकर हीरो हाकी इंडिया लीग (एचआईएल) के दूसरे संस्करण में चैम्पियन बनने का गौरव हासिल कर लिया।

दिल्ली की टीम गत वर्ष रांची राइनोज से हारकर उपविजेता रही थी, लेकिन इस बार उसने खिताब जीतने का अपना सपना पूरा कर लिया। दोनों टीमें निर्धारित 70 मिनट की समाप्ति पर 3.3 से बराबर थी जिसके बाद पेनल्टी शूटआउट का सहारा लिया गया।

दिल्ली ने पेनल्टी शूटआउट में बाजी मार कर ढाई करोड़ रुपये की विजेता पुरस्कार राशि अपने नाम की, जबकि पंजाब को सवा करोड़ से संतोष करना पड़ा। तीसरे स्थान पर रही रांची राइनोज की टीम को 75 लाख रुपये मिले।

तेज गति से खेले गए फाइनल में दिल्ली की टीम आधे समय तक 2-1 से आगे थी। हालांकि मार्क नोल्स ने टूर्नामेंट का सबसे तेज गोल दागते हुए पंजाब को दूसरे ही मिनट में बढ़त दिला दी थी। दिल्ली को बराबरी पर आने के लिए 33 वें मिनट तक इंतजार करना पड़ा।

लॉयड नोरिस जोंस ने दिल्ली के लिए बराबरी का गोल दागा। इसके दो मिनट बाद मिले पेनल्टी कॉर्नर पर रुपिन्दर पाल सिंह ने शाट न लेकर गेंद कप्तान सरदार सिंह की तरफ खिसकायी जिन्होंने गोल करने में कोई गलती नहीं की।

दूसरे हाफ में पंजाब ने तीन मिनट के अंतराल में दो गोल दागकर बढ़त बना ली। शिवेन्द्र सिंह ने 45 वें और अफ्फान यूसुफ ने 48वें मिनट में ये गोल किए, लेकिन 51 वें मिनट में युवराज बाल्मीकि ने दिल्ली को 3-3 की बराबरी पर ला दिया।

पेनल्टी शूटआउट में पंजाब का भाग्य रूठ गया, लेकिन दिल्ली का भाग्य चमक उठा। साइमन ओरकर्ड  पंजाब का पहला शॉट चूक गए, लेकिन मैथ्यू गोडेस ने दिल्ली का पहला शॉट गोल में पहुंचा दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली बनी चैंपियन, जीते ढाई करोड़