DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अप्रैल में बुनियादी सुविधा सूचकचचांकचच कचची रफ्तार मंद

बिजली, रिफाईनरी और कच्चा तेल उद्योग के कमजोर प्रदर्शन से इस वर्ष अप्रैल के दौरान छह प्रमुख बुनियादी क्षेत्रों के सूचकांक की रफ्तार पिछले साल के इसी माह के 5.प्रतिशत की तुलना में घटकर 3.6 प्रतिशत रह गई। सरकार की तरफ से जारी आंकडों के मुताबिक समाप्त हुए वित्त वर्ष में वृद्धि एक साल पहले के प्रतिशत के मुकाबले 5.6 प्रतिशत (अनंतिम) रही। औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईपीपी) में 4.17 प्रतिशत का योगदान रखने वाले कच्चे तेल के सूचकांक की वृद्धि दर इस वर्ष अप्रैल में मात्र 0.प्रतिशत रही, जो पिछले साल 1.4 प्रतिशत थी। रिफाईनरी उद्योग की रफ्तार 15.1 प्रतिशत के मुकाबले धीमी पड़कर 4.3 प्रतिशत रह गई। कोयला क्षेत्र का प्रदर्शन इस वर्ष अप्रैल में शानदार रहा।ड्ढr आईआईपी में 3.22 प्रतिशत का हिस्सा रखने वाले कोयला क्षेत्र की विकास गति इस वर्ष अप्रैल में 10.3 प्रतिशत रही, जो पिछले साल मात्र 0.6 प्रतिशत थी। बिजली क्षेत्र का सूचकांक (10.17 प्रतिशत भारांक) पहले के 8.7 प्रतिशत के मुकाबले केवल 1.4 प्रतिशत की वृद्धि हासिल कर सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बुनियादी सुविधा सूचकचचांकचच कचची रफ्तार मंद