DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वास्थ्य मंत्री ने अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

वास्थ्य मंत्री भानू प्रताप शाही ने कहा है कि अगर राज्य में मलेरिया-डायिरया से मौतें होती है, तो इसके लिए स्वास्थ्य अधिकारी जिम्मेवार होंगे।ड्ढr गुरुवार को स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक में मंत्री ने मलेरिया-डायरिया नियंत्रण के लिए जिला स्तर पर टास्क फोर्स और कंट्रोल रूम गठित करने का निर्देश दिया, ताकि प्रभावित इलाकों में जल्द से जल्द चिकित्सा सुविधा मुहैया करायी जा सके। बैठक में स्वास्थ्य सचिव सियाराम प्रसाद सिन्हा, राज्य मलेरिया पदाधिकारी, राज्य भर के जिला मलेरिया पदाधिकारी, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी उपस्थित थे।ड्ढr मंत्री ने मलेरिया नियंत्रण कार्यक्रम की जिलेवार समीक्षा की। इसमें उन्होंने पाया कि लोहरदगा में डीडीटी का छिड़काव प्रारंभ नहीं हुआ है। यह बात भी सामने आयी कि मुख्यालय से जिलों को देर से डीडीटी भेजा गया।ड्ढr मंत्री ने डीडीटी छिड़काव देर से प्रारंभ करनेवाले जिलों के डीएमओ को डांट पिलायी। उन्होंने डीडीटी छिड़काव कर्मचारियों के बकाया भुगतान का भी निर्देश दिया। उन्होंने 30 जुलाई तक मच्छरदानी वितरित करने का निर्देश अधिकारियों को दिया। बाढ़ प्रभावित जमशेदपुर और गोड्डा में मलेरिया-डायरिया की स्थिति का जायजा लेने एक टीम जायेगी। बैठक में राज्य आरसीएच पदाधिकारी डॉ विजय शंकर नारायण सिंह, राज्य कीट वेता डॉ एटीएस सिन्हा उपस्थित थे।ड्ढr आप कंडीशन में हैं न डीएमओ साहब..ड्ढr समीक्षा के दौरान गढ़वा, रांची और लोहरदगा के जिला मलेरिया पदाधिकारियों को काफी डांट पड़ी। रांची डीएमओ की ओर से डीडीटी छिड़काव की अद्यतन रिपोर्ट नहीं दी गयी। इस पर जब उनसे पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि प्रखंडों से रिपोर्ट नहीं आयी है। गाड़ी का कंडीशन ठीक नहीं होने के कारण वे नहीं जा सके। इस पर मंत्री ने पूछा कि आपका कंडीशन ठीक है न? लोहरदगा डीएमओ ने बताया कि जिले में बकाया होने का कारण डीडीटी छिड॥काव नहीं हो रहा है। इस पर मंत्री ने कहा कि आप अपनी जिम्मेवारी से भाग रहे हैं। गढ़वा डीएमओ की ओर से अभी तक मच्छरदानी का वितरण नहीं किया गया था। इस पर मंत्री ने कहा कि आपको गढ़वा में ही डिमोशन कर मेडिकल अफसर प्रभारी बनायेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्वास्थ्य मंत्री ने अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक