अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोमतीनगर के ग्वारी गाँव में धरती में पड़ी दरार

ौंस फँसकर मरी, अधिकारियों ने किया निरीक्षणड्ढr - नारायण खेड़ा गाँव में हालात नियंत्रण मेंड्ढr गोमतीनगर में ग्वारी गाँव में भी धरती में दरार पड़ रही है। बुधवार को दरार में एक भैंस फँसकर मर गई। गाँव कीोमीन में गड्ढे बन रहे हैं। ं लगभग 200 मीटर दायर मेंोगह-ागह दरार देखीोा रही है। कुछ क्षेत्रों मेंोमीन दलदली हो गई है। पशुओं को उसे इलाके मेंोाने से रोक दिया गया है। यह इलाका बिल्कुल शहर से मिला है। अधिकारियों ने मौके काोायाा लिया है। लोग इसोमीन फटने की घटना मान रहे हैं।ड्ढr गोमतीनगर में दरार बनने की घटना बुधवार की रात घटी। रात के समय रााू अपनी ौंस लेकर ग्वारी की तरफोा रहा था। अचानक उसकी ौंस दलदल में फँस गई। वह चिल्लाया। रात भर उसे निकालने के लिए लोग मशक्कत करते रहे पर उसे निकाल नहीं सके। उसकी मौत हो गई। लोगों ने वहाँ देखा किोमीन में छोटे-छाटे गड्ढे बन रहे हैं। कुछ दरार भी पड़ रही है। गुरुवार को कुछ लोगों ने एक गड्ढे मे पाइप डालाोो लगभग 20 फुट नीचे चली गई।ड्ढr इस बीच मोहनलालगां के नारायणखेड़ा गाँव में लघु सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता आरवी शर्मा नेोाकर मौके का निरीक्षण किया। वहाँ हालात नियंत्रण में हैं। केन्द्रीय भूाल बोर्ड वैज्ञानिकों ने मिट्टी के नमूना एकत्र किया है। वहीं क्षेत्रीय विधायक आरके चौधरी भी मौके पर पहुँचे वहाँ ग्रामीणो ने दैविक आपदा से निपटने के लिए बेहतर व्यवस्था कराएोाने की माँग रखी।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गोमतीनगर के ग्वारी गाँव में धरती में पड़ी दरार