DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संक्षिप्त खबर

युवती से दुष्कर्म दो गिरफ्तारड्ढr हाारीबाग। जिले के विष्णुगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम ढंगरटोली, रमुआ में एक महिला के साथ गांव के ही जोशी मुंडा ने दुष्कर्म किया। घटना को पुरानी रािंश की वजह से अंजाम दिया गया। इस संबंध में पीड़िता की शिकायत पर थाना में मामला 8008 दर्ज कर लिया गया। इसमें बताया गया है कि रात में घर के मेन गेट को तोड़कर गांव के जोशी, चंदर मुंडा, उपेंद्र मुंडा, सुनील मुंडा घुसे थे। जोशी ने उसके साथ मनमानी की।ड्ढr दुर्घटना में महिला की मौतड्ढr डोमचांच। डोमचांच में ट्रक (यूपी 78 पीटी) और मोटरसाइकिल की सीधी टक्कर में बझेडीह निवासी पुष्पा देवी की मौत हो गयी। घटना 1ाून की रात आठ बजे की है। इसमें उपेंद्र नामक व्यक्ित घायल हो गया।ड्ढr मुंशी को गोली मारीड्ढr चतरा। 18 जून की रात उग्रवादियों ने कच्चा गांव निवासी कोशिल ठाकुर की पहले पिटाई कर उसे गोली मार दी। संयोग से गोली उसके हाथ में लगी। उग्रवादियों की संख्या चार थी और सबका नेतृत्व कामेश्वर उर्फ झकसू गंझू कर रहा था। जानकारी के अनुसार पिटाई के बाद जब कोशिल ठाकुर पर गोली चलायी गयी जो सीधे उसके हाथ में लगी। उग्रवादियों के जाने के बाद परिानों ने उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया।ड्ढr इटखोरी में बारिश से एक की मौतड्ढr संवाददाता इटखोरी धनखेरी में भारी बारिश के कारण एक व्यक्ित की मौत हो गयी। मृतक का नाम जुमराती मियां है। बताया गया है कि जुमराती, भुइयां टोली स्थित आवास से रात में तेज बारिश में पेशाब करने बाहर निकला। इसी बीच तेज बारिश तथा नाले के बहाव ने उसे खींच लिया। बहाव में बह कर नाले में वह फंस गया। सुबह लोगों ने उसे मृत स्थिति में पाया। कीटनाशक खाने से एक की मौतड्ढr प्रतिनिधि चतरा हासबो गांव निवासी 45 वर्षीय युगल राणा की मौत कीटनाशक खाने से हो गयी। जानकारी के अनुसार स्वर्गीय मोहन राणा के पुत्र युगल राणा जंगल गया था। जंगल से जब वह घर आया तो उसके मुंह से झाग निकल रहा था। कुछ देर छटपटाने के बाद वह बेहोश हो गया। आनन-फानन में उसे सदर अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। आत्महत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो पाया है। इस संदर्भ में सदर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गयी है। मामले की जांच हो रही है।ड्ढr आरोपी धरायाड्ढr सिमरिया। वर्ष 1से फरार डाडी बकचोमा निवासी मो.क्यूमउद्दीन को सिमरिया पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज दी। उस पर सिमरिया थाना दो मामले दर्ज हैं।बरवाडीह में सात डकैत गिरफ्तारड्ढr बरवाडीह। बरवाडीह थाना के थानेदार सुजीत राय, सअनि अजरुन यादव और केड़ पिकेट पुलिस के सहयोग से बेतला-गारू मार्ग पार बक्सा मोड़ के पास यात्री वाहनों में लूट की योजना बना रहे सात सड़क डैकतों क ो गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार डकैतों में लुकूमखांड़ के शिवशंकर सिंह उर्फ भगत, राम सिंह, राजेंद्र भुइयां, लक्ष्मण भुइयां, जुगलाल भुइयां, नरेश सिंह और संजय सिंह शामिल हैं। ड्ढr डकैती के बाद भाग जाते थे दिल्लीड्ढr बरवाडीह थाना क्षेत्र के बेतला-गारू मार्ग पर यात्री वाहनों में लूटपाट की घटना क ो अंजामा देने के बद सड़क डकैत दिल्ली, फरीदाबाद और हरियाणा भाग जाते थे। वहां मजदूर के रूप में काम किया करते थे। पुलिस के हत्थे चढ़े सात सड़क डकैतों ने पुलिस के समक्ष इसका खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार लूटपाट के मोबाइल आदि सामानों को उक्त डकैत दिल्ली में ले जाकर बेचते थे। झरिया में चाल गिरी, मां-बेटी की मौतांवाददाता भगतडीह झरिया थाना अंतर्गत बस्ताकोला लिबर्टी पहाड़ी के समीप गुरुवार को अवैध उत्खनन के दौरान चाल गिरने से एक महिला और एक बच्ची की मौत मौके पर हो गयी। घटना में करीब आधा दर्जन लोग घायल हुए हैं। घायलों का इलाज गुपचुप तरीके से कराया जा रहा है। मृत महिला और बच्ची के शव को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। घटनास्थल पर गैंता, बेलचा, चप्पल, टोकरी बरामद की गयी है। घटना की खबर मिलते ही वहां काफी संख्या में लोग जुट गये थे। वहीं मृतक के परिान पुलिस के डर से फरार हैं। लोगों ने बताया कि बस्ताकोला क्षेत्र के विक्ट्री पैच कम्बाइंड सीम में रो की तरह दर्जनों लोग अवैध उत्खनन करने के लिए गये हुए थे। इसी बीच गुरुवार को अपरह्न् करीब तीन बजे यह हादसा हुआ। हादसा होते ही घायल भाग चले। अवैध उत्खनन के लिए पुलिस जिम्मेवार : जीएमड्ढr बीसीसीएल के क्षेत्रीय महाप्रबंधक पीके चक्रवर्ती ने अवैध उत्खनन के लिए पुलिस को जिम्मेवार ठहराया है। श्री चक्रवर्ती ने दूरभाष पर बताया कि बस्ताकोला क्षेत्र का विक्ट्री पैच कंबाइंड सीम चालू खदान थी। लेकिन ग्रामीणों ने इस खदान को चालू होने से रोक दिया था। इससे खदान में पानी भर गया। खदान चालू करने को लेकर ग्रामीणों से कई चक्रों में बातचीत हुई। दो जून को भी बात हुई लेकिन मामले का कोई हल नहीं निकल पाया। उन्होंने कहा कि कोयला चोरी पर रोक लगाना प्रबंधन का काम नहीं है। प्रबध्ांन उत्पादन करना जानता है। प्रबंधन ने उक्त जगह को बंद कर दिया था। घटना के लिए पुलिस जिम्मेवार है। दिन रात उस मार्ग से पुलिस की गाड़ी जाती है। कभी भी पुलिस कार्रवाई नहीं करती। सारा दोषारोपण प्रबंधन पर थोप दिया जाता है।ड्ढr डकैती के बाद भाग जाते थे दिल्लीड्ढr बरवाडीह थाना क्षेत्र के बेतला-गारू मार्ग पर यात्री वाहनों में लूटपाट की घटना क ो अंजामा देने के बद सड़क डकैत दिल्ली, फरीदाबाद और हरियाणा भाग जाते थे। वहां मजदूर के रूप में काम किया करते थे। पुलिस के हत्थे चढ़े सात सड़क डकैतों ने पुलिस के समक्ष इसका खुलासा किया है। पुलिस के अनुसार लूटपाट के मोबाइल आदि सामानों को उक्त डकैत दिल्ली में ले जाकर बेचते थे।केवल पेट्रोलिंग होती है। पेट्रोलिंग आने पर कुछ देर के लिए चोर भाग जाते हैं और फिर अपने काम में जुट जाते हैं। इस बात पर वे चुप्पी साध गये कि अवैध उत्खनन होने की खबर उन्होंने प्रबंधन को दी थी अथवा नहीं। इस बात को टालते हुए कहा कि बगल में ही जवानों ने छापामारी कर पांच टन कोयला जब्त किया है। थानेदार ने कहा प्रबंधन दोषीड्ढr संवाददाता भगतडीहड्ढr झरिया थानेदार अवधेश कुमार सिंह का कहना है कि घटना के लिए प्रबंधन दोषी है। प्रबंधन को पत्र लिखकर कई बार अवैध उत्खनन स्थल को बंद करने के लिए कहा गया था। उन्होंने प्रबंधन पर मुकदमा दर्ज करने की बात कही। कहा कि अभी छानबीन की जा रही है। छानबीन में दोषी पाये जाने वाले पर मामला दर्ज होगा। ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संक्षिप्त खबर