अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छापामार दल को लोगों ने खदेड़ा

गुरुवार की शाम बिजली छापेमारी करने पहुंचे दल को लोगों ने खदेड़ दिया। आक्रोशित लोगों ने अभियंता के साथ मारपीट भी की। इससे दल में शामिल लोग भाग खड़े हुए। घटना अगमकुआं थाना क्षेत्र के बेलवरगंज की है। इस बाबत पेसू गुलजारबाग डिवीजन के सहायक विद्युत अभियंता संजय कुमार ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवायी है।ड्ढr इसमें बताया गया है कि दल बिजली चोरी के खिलाफ बेलवरगंज स्थित एक प्लास्टिक फैक्ट्री में छापेमारी करने पहुंचा तब कुछ लोगों ने विरोध किया। हालांकि फैक्ट्री में बिजली चोरी की सूचना पर जांच का प्रयास किया गया। इस भय से लोगों ने अभियंता संजय कुमार के साथ मारपीट की। दूसरी ओर स्थानीय लोगों का कहना है कि दल ने छापेमारी के दौरान प्लास्टिक फैक्ट्री में लगे ताले को तोड़ने की चेष्टा की। इस कारण लोग भड़क गए। इस सिलसिले में पुलिस ने बताया कि अभियंता की ओर से दर्ज कराए गए मामले में बताया गया है कि लोगों ने सरकारी कार्य में व्यवधान उत्पन्न किया है। अपहृत स्मैक धंधेबाज बरामद, 3 गिरफ्तारड्ढr पटना (का.सं.)। स्मैक का अवैध धंधा व अपराधियों से दोस्ती गणेश गुप्ता को महंगी पड़ी। संयोगवश पुलिस के आने की आहट से वह मुक्त हो गया वैसे अपहरण के बाद अपहर्ताओं ने उसके कत्ल के लिए कब्र भी खोद डाला था।ड्ढr इस मामले में कंकड़बाग पुलिस ने तीन शातिर अपराधियों निक्कू सिंह (मसौढ़ी), उमेश यादव (धनरूआ) और ददन यादव (हिलसा, नालदा) को दबोच लिया है जबकि दो अन्य फरार है। इनमें उमेश की नक्सलियों से साठगांठ की बात सामने आई है। गुरुवार की देर शाम एसएसपी अमित कुमार ने बताया कि पटना-नालंदा जिले के सीमावर्ती धनरूआ इलाके में अपहर्ताओं ने गणेश को छिपाया था और फिरौती नहीं मिलने पर उसकी हत्या करने की तैयारी में थे। मारने से पूर्व उसे नया कपड़ा भी पहना दिया था ताकि बाद में आसानी से शव की शिनाख्त नहीं हो। हालांकि पुलिसिया दबिश पर अपराधी अपहृत को छोड़ कर भागे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छापामार दल को लोगों ने खदेड़ा