DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जलजमाव व गंदगी के खिलाफ आक्रोश मार्च

जल जमाव व गंदगी के खिलाफ गुरुवार को राजद नेताओं ने आक्रोश मार्च निकाला और एसडीओ को ज्ञापन सौंपा। आक्रोश मार्च पश्चिम दरबाजा से चलकर पुरानी सिटीकोर्ट पहुंचा। लोगों ने इस सरकार के खिलाफ नारबाजी भी किए। सौंपे गए ज्ञापन के माध्यम से नेताओं ने चेतावनी दी है कि अनुमंडल के इलाकों से शीघ्र गंदगी व जल जमाव नहीं हटाया गया तो सड़क पर उतरकर आंदोलन करंगे। ज्ञापन में नेहरू टोला, हुमाद गली, बख्शी मैदान, चरखा स्कूल, वैशाली कॉलोनी, कुम्हरार, पटेल नगर, विकास नगर आदिवासी कॉलोनी, परशुराम कॉलोनी, अजीमाबाद कॉलोनी, संदलपुर आदि इलाकों में मानसून की पहली बारिश ने निगम प्रशासन की पोल खोलकर रख दी है। नाला उड़ाही के नाम पर लाखों रुपया खर्च हुआ लेकिन सिल्ट फिर नालों में चली गई। गंदगी से महामारी फैलने का भय है। आक्रोश मार्च में राजद के पूर्व प्रदेश सचिव रामानंद श्रीवास्तव, अनिल यादव, वार्ड पार्षद, बलराम चौधरी, प्रवक्ता रणधीर यादव, पूर्व वार्ड पार्षद कुमुद नारायण चौधरी, रजनीश राय, विनोद यादव, महमद कुरैशी, गणेश शर्मा, बब्लू राम, अशोक सिन्हा, मनीष, मुकेश, पप्पु गुप्ता, राजू, दीना, डा. एकबाल अहमद, हेदायत अहमद, अभिषेक रिंकू, कमलेश, मो. चांद आदि शामिल थे। छाता लगा इलाज करना पड़ा रहा नर्सो कोड्ढr पटना सिटी (हि.प्र.)। एनएमसीएच के वार्ड में लगातार वर्षा से छत से बरसात का पानी टपकना जारी है। नर्सो को मरीजों का इलाज छाता लगाकर करना पड़ रहा है। सबसे अधिक परशानी सर्जिकल एवं मेडिसीन इनडोर में स्वास्थ्यकर्मियों एवं डाक्टरों को हो रही है। पानी टपकने से डाक्टर एवं नर्सो के रूम में पानी जमा हो गया है। सर्जकिल स्टोर रूम में रखे औषधि एवं सर्जिकल आइटम खराब हो रहे हैं। मरीजों को भी बैठकर रात गुजारना पड़ा रहा है। अधीक्षक डा. एन.पी. यादव भी पीडब्ल्यूडी एवं पीएचईडी विभाग के क्रियाकलापों से चिंतित हैं तथा इसके लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों से बातचीत कर रहे हैं।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जलजमाव व गंदगी के खिलाफ आक्रोश मार्च