DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केकेआर टीम से खेलेगा नालंदा का वीर प्रताप

केकेआर टीम से खेलेगा नालंदा का वीर प्रताप

विश्व भर में ज्ञान की रौशनी फैलाने वाली नालंदा की धरती के बेटे वीर प्रताप सिंह उर्फ मोनी अब क्रिकेट जगत में अपनी रोशनी फैला रहे हैं। गांव की गलियों में कभी प्लास्टिक के बॉल से खेलनेवाले मोनी आईपीएल में भी अपनी जगह पक्की कर चुके हैं। गुरुवार को हुई नीलामी में उन्हें केकेआर (कोलकाता नाईट राइडर्स) टीम ने खरीदा है।

नालंदा जिले के चंडी प्रखंड के जगतपुर गांव के वीर प्रताप सिंह उर्फ मोनी बताते हैं कि सबसे पहले आईपीएल-5 में डेक्कन चार्जर्स टीम की ओर से उन्हें खेलने का मौका मिला था। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। आईपीएल-6 में सनराइजर्स टीम से खेलते हुए उन्होंने कई विकेट चटकाये थे। क्रिकेट की दुनिया में तेज गेंदबाज के रूप में पहचान बना चुके मोनी को आईपीएल-7 की नीलामी में बेस प्राइस 20 लाख की जगह उन्हें दोगुनी कीमत पर 40 लाख में केकेआर के मालिक व फिल्म अभिनेता शाहरुख खान ने अपनी टीम में शामिल किया।

मोनी बताते हैं कि उन्होंने अपने क्रिकेट कैरियर को संवारने के लिए वर्ष 2008 में कोलकाता का रुख किया था। वहां उन्होंने एक क्लब से क्रिकेट खेलना शुरू किया। फिर अपनी खेल प्रतिभा के बूते बंगाल की रणजी टीम में जगह बनायी। पिछले दो वर्षो से वह रणजी टीम के लिए खेल रहे हैं। तीन भाइयों व एक बहन में सबसे छोटे ‘वीर’ की तमन्ना अपने देश के लिए खेलने की है। इसके लिए वह बॉलिंग की बारीकियां भी सीख रहे हैं।

मोनी की इस सफलता से उनके पिता धीरेन्द्र सिंह व मां मिनता देवी की खुशी का ठिकाना नहीं है। वे बताते हैं कि मोनी ने अपनी मेहनत के बूते इस मुकाम तक पहुंचा है। मोनी के गांव में भी जश्न का माहौल है।

सचिन को भी आउट कर चुका है ‘वीर’
क्रिकेट जगत में जौहर दिखाने वाला वीर प्रताप सिंह वर्ष 2008-09 में सबसे पहले बंगाल की ओर अंडर 19 क्रिकेट मैच खेला था। अपने डेव्यू मैच में ही उड़ीसा के साथ खेलते हुए छह विकेट लिया था तथा उसे मैन ऑफ दी मैच से नवाजा गया था। उसके बाद वर्ष 2012 में विजय हजारे ट्रॉफी में बंगाल टीम से खेलते हुए आसाम टीम के पांच खिलाड़ियों को आउट किया था।

इसी टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइन में भी मोनी ने कर्नाटक टीम के चार खिलाड़ियों के विकेट चटकाये थे। दोनों मैच में बेहतर प्रदर्शन के लिए इसे मैन ऑफ दी मैच दिया गया था। आईपीएल-5 में डेक्कन चाजर्स टीम की ओर से वानखेड़ स्टेडियम में खेलते हुए वीर प्रताप सिंह ने मुम्बई इंडियन के खिलाड़ी व क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिव तेन्दुलकर को भी आउट कर चुका है। इस मैच में इसे दो विकेट मिले थे। वर्ष 2012 में ही रणजी मैच के दौरान हैदरबाद व मध्य प्रदेश के साथ खेलते हुए चार-चार विकेट चटकाये थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केकेआर टीम से खेलेगा नालंदा का वीर प्रताप