DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

50 लाख की हेरोइन जब्त

गुरुवार को रांची पुलिस ने व्यापारी बन अरगोड़ा में पचास लाख रुपये से अधिक की हेरोइन बरामद करने में सफलतर प्राप्त की है। दबोचे गये लोगों में गुमला के परमवीर अलबर्ट एक्का कॉलेज के प्राध्यापक नियूस लकड़ा भी शामिल हैं। पुलिस उन सबों से पूछताछ कर रही है।ड्ढr सूत्रों के अनुसार एसएसपी को यह भनक लगी कि हेरोइन के कारोबारी रांची में पहुंचे हैं। सूचना मिलने पर डीएसपी महेश राम पासवान, लालपुर थाना प्रभारी रणधीर कुमार, बीडी चौधरी, अरगोड़ा के थाना प्रभारी रनजीत सिन्हा और अन्य पुलिस कर्मियों ने जाल फैला अरगोड़ा चौक पर अपने कब्जे में कर लिया। पकड़े गये लोगों में हजारीबाग के मंडई निवासी असलम अंसारी, फुटकल टोली रांची का अफरोज अंसारी और कांटाटोली का साइकिल दुकानदार हसन अंसारी भी शामिल है। पुलिस को इस मामले में निजाम भाई, पगमल का हसन और अन्य की तलाश है। इनके पास से पुलिस ने 50 लाख रुपये की हेरोइन बरामद की है, जिसे रांची में खपाया जाना था। थाइलैंड में बने 460 ग्राम की हेरोइन का पैकेट 1में बना है, जो 2010 में एक्सपायर करगा। पुलिस को इसी मामले में बिजूपाड़ा निवासी संजय, सप्लायर असलम भाई, धनेश्वर महतो की भी तलाश है।ड्ढr इस तरह धराये ड्रग स्मगलरड्ढr 50 लाख की हेरोइन खरीदने अटैची लेकर पुलिस चली, फोन पर बात हुई। ग्राहक बने लालपुर के थानेदार रनधीर कुमार, अरगोड़ा के रंजीत सिन्हा, लालपुर के दारोगा बीडी चौधरी। तय हुआ कि अरगोड़ा चौक पर हेरोइन दो और पैसा लो। माल 50 लाख का था। तस्कर आठ लाख में देने को तैयार था। सादे लिबास में पुलिस नोटों के बंडल लिये खड़ी थी। असलम अंसारी हेरोइन लेकर आने वाला था। टाउन डीएसपी महेश राम पासवान भी वहां थे। जैसे ही तस्कर पहुंचे पुलिस ने दबोच लिया। रांची पुलिस इस गिरफ्तारी को बड़ी सफलता मानती है। अफरोज अंसारी पलंबर का काम करता है। प्रो नियूस लकड़ा के घर में इसी ने कहा था कि हेरोइन है उसे बेचवाना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 50 लाख की हेरोइन जब्त